Breaking News

डिजिटल मोदी की नजरें रहती हैं चारो तरफ, हर मन्‍त्रालय डैसबोर्ड से जुड़ा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई कड़े फैसले लिए जिनकी विपक्ष ने भले ही आलोचना की हो लेकिन देशवासियों ने मोदी के काम की सराहना की। वहीं अगर पीएम कोई सरकारी योजना की घोषणा करते हैं तो उस पर पूरी नजर भी रखते हैं। मोदी ने डिजिटल इंडिया को अपनी सरकार के कामकाज में बाकायदा उतार लिया है। मोदी सरकार डिजिटल इंडिया के पैटर्न पर काम कर रही है, जहां कामकाज की निगरानी डैशबोर्ड पर की जा रही है तो निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे भी लगाए गए हैं। नीति आयोग बिग डेटा एनालिसिस के जरिए 15 मंत्रालयों के कामकाज पर नजर रख रहा है। इसके लिए नीति आयोग में दो डेटा माइनिंग विशेषज्ञों को नियुक्त किया गया है।

15 मंत्रालयों में करीब 4 दर्जन डैश बोर्ड
डैशबोर्ड के जरिए केंद्र सरकार के कार्यक्रमों पर नजर रखी जा रही है. जिसके चलते पैसों की हेराफेरी, फर्जी लाभार्थी, दस्तावेजों में गड़बड़ी जैसी समस्याएं काफी हद तक दूर हुई हैं। बिग डेटा एनालिसिस के तहत 15 मंत्रालयों में करीब 4 दर्जन डैश बोर्ड लगवाए गए हैं। आवास, ऊर्जा, कोयला, रेलवे, अक्षय ऊर्जा, ग्रामीण सड़क और राजमार्ग मंत्रालयों का कामकाज इसी सिस्टम के तहत चल रहा है।

मोदी बने मॉनीटर
मनरेगा की मॉनीटरिंग के लिए बने डैश बोर्ड पर कहां-कहां कौन सा काम चल रहा है, सबकी जानकारी तस्वीरों के साथ मौजूद है. प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना मंत्रालय के डैशबोर्ड पर तस्वीरों के साथ ये डाटा मौजूद है कि रोजाना कितने किलोमीटर सड़क बन रही है. जहाजरानी मंत्रालय में विदेश जाने वाले हर जहाज की जांच के बाद उसकी तस्वीर टैग की जा रही है, जिसकी मॉनीटरिंग डैश बोर्ड पर हो रही है और इस कामों की पूरी रिपोर्ट पीएम मोदी को दी जाती है।

-----
लिंक शेयर करें