Breaking News

धूमधाम से मनाया गया गुरु गोविन्‍द सिंह का प्रकाशोत्‍सव

  • –   गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में हुआ शबद कीर्तन
  • –   लंगर में जाकर लोगों ने ग्रहण किया भण्‍डारे का प्रसाद

संतकबीरनगर। अरुण कुमार सिंह

सिख समुदाय के दसवें और अन्तिम गुरु श्री गुरु गोविन्‍द सिंह जी महाराज का 350 वां प्रकाशोत्‍सव गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान शबद कीर्तन के साथ ही अरदास व लंगर तथा प्रसाद वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में भारी संख्‍या में सिख समुदाय के लोग उपस्थित रहे।

खलीलाबाद

गुरुद्वारा में शबद कीर्तन करते हुए लोग

गुरुद्वारा के अध्‍यक्ष सरदार अजीत सिंह ने इस दौरान उपस्थित लोगों को सम्‍बोधित करते हुए कहा कि गुरु गोविन्‍द सिंह ने देश धर्म और संस्‍कृति को बचाने के लिए अपने पिता और चार पुत्रों का बलिदान देकर हिन्‍दुस्‍तान के इतिहास में अमिट छाप बनाई। इसीलिए उन्‍हें सर्वंशदानी कहा जाता है। धर्म की खातिर लड़ने के लिए गुरु गोविन्‍द सिंह ने खालसा पंथ की स्‍थापना की और पंच प्‍यारे तैयार किए। पंच प्‍यारों को अमृतपान कराकर केश, कंघा, कृपाण, कड़ा और कच्‍छ धारण कराया था।

खलीलालाबाद, गुरुद्वारा, गुरु सिंह सभा

लंगर में प्रसाद ग्रहण करते हुए महिलाएं व पुरुष

इस कार्यक्रम में सरदार प्रीतपाल सिंह, सतविन्‍दर पाल सिंह जज्‍जी, जसबीर सिंह, सुरेन्‍द्र सिंह, मदन सिंह, हरप्रीत सिंह, रवनीत सिंह, गुरुद्वारा के ग्रन्‍थी जोगिन्‍दर सिंह, बलवन्‍त कौर, मंजीत सिंह, दलजीत सिंह, रजपाल सिंह, जसविन्‍दर सिंह, रविन्‍द्र पाल सिंह, भूपेन्‍द्र पाल सिंह, राजेन्‍द्र पाल सिंह, परविन्‍दर सिंह, धर्म सिंह, परमजीत सिंह, त्रिलोचन सिंह, शानू सिंह, सैंकी सिंह, हरदीप सिंह, परमजीत कौर, सरनजीत कौर, कमलजीत कौर, रसमीत कौर, रजिन्‍दर कौर, घनश्‍याम दास बिड़ला समेत शहर के अन्‍य गणमान्‍य नागरिक उपस्थित रहे।

Newskbn sardar

 

-----
लिंक शेयर करें