Breaking News

माफी नहीं मांगी तो स्‍कूल प्रबन्‍धक को मिली मौत

  • जिसने माफी मांग ली उसको बख्‍श दिया हत्‍यारों ने
  • प्रबन्‍धक ने नहीं मांगी माफी तो उसे सुला दिया मौत की नींद

महुली, संतकबीरनगर। आनन्‍द पाण्‍डेय

केवटली गांव के बहुचर्चित हत्‍याकाण्‍ड का खुलासा करने वाली पुलिस के सामने चौकाने वाले तथ्‍य आए हैं। पकड़े गए अभियुक्‍तों से  गहन पूछताछ हुई तो उन्‍होने बताया कि  प्रबन्‍धक ने पिछले दिनों हुए झगड़े को लेकर माफी नहीं मांगी थी। इसलिए उसको मौत की नींद सुला दिया गया।

आरोपितों ने बताया कि गत दिनों चकरोड भरवाने को लेकर गांव में विवाद हुआ था। इस विवाद में स्‍कूल प्रबन्‍धक रविन्‍द्र चौधरी के साथ ही उसी के गांव के पूर्व प्रधान का पुत्र पवन पाण्‍डेय व अन्‍य लोग शामिल थे। 15 जुलाई 2017 को हुए इस विवाद को लेकर मारपीट भी हो गई थी। इसे लेकर गांव के प्रधानपति पवन ओझा काफी नाराज हो गए थे। उन्‍होने उन लोगों को देख लेने की धमकी भी दी थी। बाद में पूर्व प्रधान के पुत्र पवन पाण्‍डेय ने उनके पास जाकर सार्वजनिक रुप से माफी मांग ली थी। इसके बाद पवन ओझा ने झीनक व प्रबन्‍धक के उपर दबाव बनाया। लेकिन वे माफी नहीं मांगे। इसके बाद उन्‍होने उस चौधरी परिवार को सबक सिखाने की सोची। नतीजा यह हुआ कि अपने सहयोगियों को एकत्रित किया और प्रबन्‍धक  रविन्‍द्र चौधरी की गला दबाकर हत्‍या कर दी। साथ ही मौके से फरार भी हो गए।

हत्‍याकाण्‍ड के खुलासे की खबर पढ़ने  के लिए नीचे का लाल बटन दबाएं……

स्‍कूल प्रबन्‍धक की हत्‍या में 4 गिरफ्तार

साफ्ट टारगेट था प्रबन्‍धक रविन्‍द्र चौधरी

बताया जाता है कि झगड़ा तो  झीनक चौधरी से हुआ था। परिवार के नाते रविन्‍द्र चौधरी भी उसमें शामिल हुआ। झीनक चौधरी के घर के लोग गांव में रहते थे। जबकि रविन्‍द्र चौधरी बाहर स्‍कूल में रहता था। उसकी रोज की दिनचर्या को पहले देखा गया। इसके बाद साफ्ट टारगेट समझकर उसके उपर धावा बोला गया। आरोपितों को तो लगा कि लोग यही समझेंगे कि उसने आत्‍महत्‍या कर ली। लेकिन पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट और मौका ए वारदात पर मिले सबूत हत्‍या की गवाही खुद ब खुद देने लगे थे।

 

पुलिस की इस टीम ने दबोचा अभियुक्‍तों को

अभियुक्‍तों को दबोचने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक  महुली संजय नाथ तिवारी, स्‍वाट टीम के प्रभारी उपनिरीक्षक राजकुमार यादव, उपनिरीक्षक आर एस प्रभाकर, उपनिरीक्षक एसबी सिंह, हेडकांस्‍टेबल जय प्रकाश उपाध्‍याय, कांस्‍टेबल आकाश यादव, चन्‍दन पाठक, पप्‍पू सिंह, धर्मेन्द्र यादव, अमित राय, देवनारायण, महेन्‍द्र यादव, ऋषिदेव तिवारी, मुनीर अहमद, गुड्डू प्रसाद, मन्‍नान व विनोद यादव शामिल थे।

-----
लिंक शेयर करें