Breaking News

जेटली ने दी चीन को चुनौती : देश की सेना हर चुनौती का सामना करने को तैयार

नई दिल्ली: सिक्कम सेक्टर के पास डोकलाम इलाके में भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध के बीच रक्षा मंत्री अरूण जेतली ने आज कहा कि भारतीय सैन्य बल किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। डोकलाम में गतिरोध के बीच चीन द्वारा तिब्बत में सैनिकों की गतिविधियां की रिपोर्ट और पाकिस्तान के एक सैन्य अधिकारी द्वारा अपने रक्षा उद्योग भारत से बेहतर बताए जाने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में जेतली ने कहा कि देश के रक्षा बलों के पास किसी भी स्थिति निपटने के लिए पर्याप्त उपकरण उपलब्ध हैं और इसको लेकर किसी तरह का संदेह नहीं होना चाहिए।

देश में पर्याप्त हथियार मौजूद
रक्षा मंत्री ने कहा कि हथियार और गोलाबारूद समेत रक्षा उपकरणों की क्षमता में वृद्धि एक सतत प्रक्रिया है। देश में पर्याप्त हथियार मौजूद हैं और रक्षा तैयारियां पूरी हैं। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कोई भी आयुध कारखाना बंद नहीं किया जाएगा और उनके कर्मचारियों की छंटनी भी नहीं की जाएगी। जेतली ने कहा कि हथियारों के निर्माण में आत्मनिर्भरता बढ़ाई जा रही है। रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने बताया कि रक्षा उपकरणों के निर्माण के लिए पिछले तीन वर्षों में भारतीय कंपनियों से 1.07 लाख करोड़ रुपए के 99 ठेकों हस्ताक्षर किए गए हैं।

-----
लिंक शेयर करें