Breaking News

आर्ट आफ लिविंग गोरखपुर ने बढ़ाए बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिए हाथ

– मानीराम क्षेत्र में जाकर बाढ़ पीडि़तों के बीच बांटी खाद्य सामग्री

– बाढ़ पीडि़तों को बांटे 1000 से अधिक लंच पैकेट व अन्‍य सामग्री

गोरखपुर। न्‍यूज केबीएन

आर्ट आफ लिविंग की तरफ से आए लंच पैकेट को बांटते हुए पुलिस अधिकारी गणेश शाहा

गोरखपुर में आई बाढ़ को लेकर आर्ट आफ लिविंग की गोरखपुर टीम पूरी तरह से सक्रिय हो गई है। टीम ने बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिए अपने हाथ आगे बढ़ाए हैं। इस टीम ने आज 1000 लंच पैकेट मानीराम क्षेत्र में जाकर वितरित किए। ताकि बाढ़ पीडि़तों को फौरी तौर पर राहत पहुंचाई जा सके।

मानीराम क्षेत्र में लंच पैकेट का वितरण करते हुए आर्ट आफ लिविंग की टीम के लोगों के साथ पुलिस बल

राहत सामग्री वितरण के क्रम में सबसे पहले टीम तैयार लंच पैकेट को गाडि़यों में भरकर मानीराम रेलवे स्‍टेशन पहुंची। इसके बाद वे रोहिन नदी की बाढ़ से प्रभावित लोगों के अस्‍थाई कैम्‍पों पर गए। उन कैम्‍पों में जाकर इस टीम ने मानीराम रेलवे स्टेशन पर एवम उसके आस पास के इलाकों में आईपीएस गणेश शाहा के नेतृत्व में 1000 से ज्यादा फ़ूड पैकेट साथ मे बिस्किट व रस्क वितरित किया। गणेश शाहा ने बड़ी सहजता एवम स्नेह के साथ छोटे छोटे बच्चों को विशेष तरह के बिस्किट दिए जिससे बच्चे अत्यधिक खुश दिखे। आर्ट ऑफ लिविंग के प्रदेश मीडिया प्रमुख आशीष छापड़िया ने  बताया कि बाढ़ पीड़ितों का सेवा कार्य निरंतर चलता रहेगा। खाद्य सामग्री की पैकिंग एस एस एकेडमी विजय चौक पर लगातार की जा रही है। इस कार्य में आर्ट आफ लिविंग के सदस्‍य खुद बिना किसी भेदभाव के शिफ्ट में ड्यूटी कर रहे हैं।

 

टीम के इन सदस्‍यों ने दिया बेहतर योगदान

बाढ़ पीडि़तों की सेवा में लगे आर्ट आफ लिविंग गोरखपुर के ये सदस्‍य

आर्ट आफ लिविंग की यह टीम पूरी तन्‍मयता से लगी हुई है। टीम के सदस्‍य कई पालियों में आकर इस कार्य को अंजाम दे रहे हैं। आज के कार्य मे आशीष छापड़िया, राजेश छापड़िया, कनक हरि अग्रवाल, रंजीत बदलानी, राहुल खेतान, पीयूष सराफ, राजेन्द्र अग्रवाल. मनीष कश्यप, रुचि गुप्ता, मेनका मिश्रा का सक्रिय योगदान रहा।

 

प्रशासन को भी सौंपे 2000 लंच पैकेट

बाढ़ पीडि़तों की सेवा में लगे आर्ट आफ लिविंग गोरखपुर के ये सदस्‍य

इस टीम ने गोरखपुर जिला प्रशासन को भी 2000 लंच पैकेट बनाकर दिए। ताकि वह सुदूर क्षेत्रों में जाकर लंच पैकेटों का वितरण अपने तरीके से करा सके। कारण यह है कि बाढ़ पीडि़तों के गांवों में मोटरबोट और नावों के जरिए जाने का काम प्रशासन के द्वारा किया जा रहा है। प्रशासन इन पैकेटों को लेकर सुदूर गांवों में अपनी टीम के जरिए वि‍तरित करा रहा है।

राहत सामग्री की पैकिंग में लगी हुई आर्ट आफ लिविंग की टीम के लोग

 

-----
लिंक शेयर करें