Breaking News

फर्जी हस्‍ताक्षर से 7 गांवों के कोटेदार कर रहे थे उठान

– आपूर्ति अधिकारी के फर्जी हस्‍ताक्षर बनाकर निकासी कर रहे थे कोटेदार

– जांच के दौरान इस तरह की बात आई सामने, रिपोर्ट एसडीएम को सौंपी गई

महुली, संतकबीरनगर। आनन्‍द पाण्‍डेय

नाथनगर ब्‍लाक क्षेत्र में स्थित सात गांवों के कोटेदार आपूर्ति अधिकारी के फर्जी हस्‍ताक्षर बनाकर राशन और गल्‍ले की उठान कर रहे थे। यह मामला शिकायत के बाद की गई सीडीपीओ की जांच में सामने आया है। उन्‍होने इसकी रिपोर्ट एसडीएम को भेज दी है।

नाथनगर ब्‍लाक क्षेत्र में कई महीनों से बिना सत्‍यापन किए ही आपूर्ति अधिकारी के फर्जी हस्‍ताक्षर करके राशन की उठान करने की शिकायत सामने आई थी। इस शिकायत को संज्ञान में लेते हुए जांच के निर्देश दिए गए थे। जांच अधिकारी बाल विकास विभाग की सीडीपीओ रोमा सिंह ने जांच की। जांच के दौरान उन्‍होने पाया कि ब्‍लाक क्षेत्र के सात गांवों झिंगुरापार, सुक्‍खीपुर, बारीडीहा, गौरा खुर्द, हटवा, पिड़ारी पूर्वी व कोड़रा गांवों में आपूर्ति अधिकारी के फर्जी हस्‍ताक्षर के आधार पर राशन की उठान की जा रही है। उन्‍होंने नवम्‍बर व दिसम्‍बर के अभिलेखों के आधार पर इसकी जांच की। जांच के दौरान उन्‍होने इन सातो गांवों के अभिलेखों में गड़बड़ी पाई। इस बात की रिपोर्ट उन्‍होने एसडीएम धनघटा को सौंप दी है। अब प्रशासन ऐसे कोटेदारों के खिलाफ क्‍या कार्रवाई करता है यह आने वाला समय बताएगा।

मई माह से ही चल रहा था खेल

बताया जाता है कि आपूर्ति अधिकारी के सत्‍यापन के बिना ही फर्जी हस्‍ताक्षर करके कोटेदारों के द्वारा राशन की उठान की जा रही थी। पिछले 8 महीने से चल रहे इस धन्‍धे के चलते काफी बड़ा घोटाला इन गांवों के कोटेदारों के द्वारा किया गया है।

क्‍या कहती हैं सीडीपीओ

जांच अधिकारी सीडीपीओ रोमा सिंह ने बताया कि उन्‍होने अपनी जांच की और रिपोर्ट में जो भी दोषी पाए गए हैं उनकी पूरी सूची एसडीएम को भेज दी गई है।

-----
लिंक शेयर करें