Breaking News

पुलिस भर्ती में धांधली करने वाले 3 शातिर जालसाज संतकबीरनगर में दबोचे गए

–    जालसाजी करने वाले प्रिंटर के साथ ही साथ अन्‍य सामान किए बरामद

–    देवरिया जिले के रहने वाले हैं तीनों अभियुक्‍त, करते हैं व्‍यापक जालसाजी

संतकबीरनगर। अरुण सिंह

पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्‍डेय के निर्देशन में अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत मेंहदावल बार्इपास के पास पुलिस भर्ती में धांधली करने वाले तीन शातिर जालसाजों को धर दबोचा और जेल भेज दिया। जिले की स्‍वाट टीम व प्रभारी कलेक्‍ट्रेट चौकी आनन्‍द सिंह के नेतृत्‍व में हुई इस कार्रवाई में भारी संख्‍या में जालसाजी के सामानों के साथ ही प्रिण्‍टर वगैरह भी बरामद किए गए। ये अभियुक्‍त फर्जी दस्‍तावेज तैयार करते थे।

पकड़े गए जालसाजों के साथ पुलिस टीम व एसपी तथा अन्‍य पुलिस अधिकारी

पुलिस अधीक्षक शैलेश पाण्‍डेय ने पत्रकार वार्ता के दौरान बताया कि इस टीम ने मेंहदावल बाईपास खलीलाबाद बस स्‍टैण्‍ड के पास पान की टंकी के पास सुबह 8 बजे के करीब यह कार्रवाई की। पकड़े गए अभियुक्‍तों की पहचान स्‍वर्ग कुशवाहा पुत्र स्‍व सीताराम कुशवाहा, निवासी नकहवा टोला, कंचनपुर, थाना तरकुलवा, जनपद देवरिया, विवेक उर्फ प्रियेश राय पुत्र राजेश राय निवासी ओलीपट्टी, थाना बघौचघाट, जनपद देवरिया व गुड्डू कुशवाहा पुत्र वीरेन्‍द्र कुशवाहा, निवासी सिरसिया पट्टी , थाना तरकुलवा, जनपद देवरिया के रुप में हुई। उनके पास से 1 लैपटाप, 1 सीपीयू, 2 प्रिण्‍टर, 1 ड्राइविंग लाइसेन्‍स, 4 फर्जी लाइसेन्‍स, 16 निर्वाचन कार्ड, 152 सादा निर्वाचन कार्ड, मास्‍टर कार्ड 63 अदद, चिप कार्ड 15 अदद, एटीएम कार्ड 10 अदद, आधारा कार्ड 15 अदद, 4610 रुपए नकद, बैग 2 अदद, ग्रीन कार्ड 1 अदद, पैन कार्ड 3 अदद बरामद किए गए।

जालसाजों से बरामद किए गए फर्जी कागजात व अन्‍य सामान

पूछताछ के दौरान स्‍वर्ग कुशवाहा ने बताया कि गत 18 जून को मैं, विवेक उर्फ प्रियेश राय तथा बिहार के एक लड़के लालू प्रसाद के साथ खलीलाबाद आया। लालू प्रसाद मेरे स्‍थान पर परीक्षा देते हुए पकड़ा गया था। मैं अपने साथ विवेक को लेकर हाजिर होने आया था। मुझे पास कराने के लिए 1 लाख रुपए में सौदा तय था। 60 हजार रुपया दे दिया गया था। शेष पैसा रिजल्‍ट आने के बाद दिया जाना था। मैने ही गुडडू कुशवाहा की दुकान तरकुलवा से लालू प्रसाद का फर्जी निर्वाचन कार्ड बनवाया था। गुड्डू ने बताया कि पिछले साल भर से वह फर्जी डीएल व कार्ड तथा आधार कार्ड 150 रुपए में बनाता था। सादे कार्ड दिल्‍ली से लाए गए थे। अभियुक्‍तों को पकड़ने वाली टीम में स्‍वाट टीम के प्रभारी प्रदीप सिंह, चौकी प्रभारी कलेक्‍ट्रेट आनन्‍द सिंह, एचसीपी सूर्यदेव प्रसाद, कां महेन्‍द्र यादव, देवनारायण, मुनीर अहमद, ऋषिदेव तिवारी, मनीष गुप्‍ता, शनि यादव व दीपक यादव शामिल थे। एसपी ने टीम को 5 हजार रुपए नकद पुरस्‍कार से पुरस्‍कृत किया।

 

 

-----
लिंक शेयर करें