Breaking News

सिख समाज की पहल, लाकडॉउन में न रहे संतकबीरनगर में कोई भूखा ( देवीलाल गुप्‍त की रिपोर्ट )

  • गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा गरीबों और जरुरतमंदों के लिए बनवा रहा लंच पैकेट
  • सिख समाज के लोग रोज पैकेट बनवाकर पुलिस की मदद से करा रहे वितरित

संतकबीरनगर, न्‍यूज केबीएन ।

लाकडाउन के दौरान कोई भूखा न रहे इसके लिए जिले के सिख समाज ने एक नई पहल की है। गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा के तत्‍वावधान में सिख समुदाय के लोगों ने लंच पैकेट बनवाया तथा इन पैकेटों को जनता, कोरोना वारियर्स तथा अन्‍य लोगों के बीच वितरित करने के लिए सौंप दिया। सिख समुदाय के द्वारा लॉकडाउन के दौरान गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा का यह कार्यक्रम अनवरत चल रहा है।

गरीबों और मजलूमों के लिए राहत पैकेट तैयार करते हुए सिख समाज के लोग

गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा की मुख्‍य सेवादार बीबी बलवन्‍त कौर तथा ग्रन्‍थी सरदार जोगिन्‍दर सिंह के तत्‍वावधान में शुरु की गई गुरुद्वारा की इस रसोई को सरदार मोटर्स के सरदार प्रीतपाल सिंह, प्रख्‍यात भजन गायक सरदार हरिमहेन्‍द्र सिंह उर्फ रोमी, गगनदीप सिंह सैंकी, सन्‍नी सिंह, हन्‍नी सिंह, अजीत सिंह, परविन्‍दर जी, रिण्‍टू जी, लक्‍की सरदार, मन्‍नी सरदार, ट्विेक्‍ल, सावी, दीपक के साथ ही सिख संगत के साथ ही रोटेरियन रामकुमार सिंह के सहयोग से चलाया जा रहा है। गुरुद्वारे की रसोई में पैकेट बनने के बाद प्रशासन को सौंप दिया जाता है और वह उन्‍हें अपने हिसाब से लोगों को वितरित कराता है।

समु‍दाय के लोगों ने निरन्‍तर सहायता का लिया संकल्‍प

इस दौरान सिख समुदाय के लोगों ने कहा कि सहायता का उनका यह कार्यक्रम निरन्‍तर चलता रहेगा। इस दौरान सरदार प्रीतपाल सिंह ने कहा कि सिख समाज की हमेशा यद कोशिश रहती है कि समाज में कोई भी व्‍यक्ति भूखा न रहे। इसके लिए हमेशा लंगर चलाने की परम्‍परा रही है। इस परम्‍परा का निर्वहन समाज के लोग करते रहेंगे। सरदार हरिमहेन्‍द्र सिंह उर्फ रोमी ने कहा कि वे सभी लोग जो बेहतर स्थिति में हैं वे लाकडाउन में लोगों की सहायता के लिए निरन्‍तर आगे आएं। सिख समाज का यह कार्य निर्बाध रुप से चलता रहेगा।

रोज बनाए जा रहे 300 लंच पैकेट

गुरुद्वारे में रोज 300 लंच पैकेट बनाए जा रहे है। इस लंच पैकेट में रोटी, चावल, सब्‍जी, दाल, पूरी तथा अन्‍य खाने – पीने की चीजें रहती हैं। इन्‍हें थर्मल पैकिंग में पैक किया जाता है ताकि देर तक इसकी गुणवत्‍ता बनी रहे।

पूरी तरह से हाइजेनिक है रसोई

गुरुद्वारा की यह रसोई पूरी तरह से हाईजेनिक है। इसमें काम करने वाले लोग पूरी तरह से सेनेटाइज होने के बाद ही काम करते हैं, साथ ही यहां पर आने वाले अनाज व सब्जियों को पूरी तरह से सेनेटाइज करने के बाद ही बनाया जाता है।

 

-----
लिंक शेयर करें