Breaking News

डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने निभाया पड़ोसी होने का कर्तव्‍य, गिठनी के मुक्‍तेश्‍वर के घर पहुंचकर जताई शोक संवेदना ( देवीलाल गुप्‍त की रिपोर्ट )

  • परिजनों को दिया हर सहायता का आश्‍वासन, जतनया मुक्‍तेश्‍वर की मौत पर दुख
  • जहरीले जानवर के काटने से हो गई थी 35 वर्षीय मुक्‍तेश्‍वर यादव की मौत

संतकबीरनगर, न्‍यूज केबीएन

समाजसेवा के क्षेत्र में नित नए प्रतिमान स्‍थापित करने वाले सूर्या इण्‍टरनेशनल एकेडमी के निदेशक डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने रविवार को पड़ोसी गांव के होने के अपने कर्तव्‍य का निर्वहन करते हुए गिठनी निवासी मुक्‍तेश्‍वर के घर पहुंचे। मुक्‍तेश्‍वर की किसी जहरीले प्राणी के काटने से मौत हो गई थी।

गिठनी में स्‍वं मुक्‍तेशर यादव के परिजनों से मिलते हुए सूर्या इण्‍टरनेशनल एकेडममी के निदेशक डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी

सूर्या इण्‍टरनेशनल एकेडमी के निदेशक डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी अपनी टीम के दानिश खान, बलराम यादव, अंकित पाल, आनन्‍द ओझा, रवीन्‍द्र यादव तथा अन्‍य लोगों के साथ सुबह नाथनगर ब्‍लाक क्षेत्र के गिठनी निवासी मुक्‍तेश्‍वर यादव के घर पहुंचे। मुक्‍तेश्‍वर की शनिवार को जहरीले जानवर के काटने से मौत हो गई थी। उन्‍होने वहां पर पहुंचकर परिवार के लोगों के साथ शोक संवेदना व्‍यक्‍त की तथा हर संभव सहायता का आश्‍वासन दिया। उन्‍होने कहा कि उनके परिवार को अगर किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो वे समस्‍या का निराकरण करेंगे। वे उनके पडोसी थे तथा हर समय उनका सहयोग मिलता था। उनकी मौत से हमें भी दुख हुआ है। इस दुख की भरपाई कैसे हो इसके लिए हम हर संभव सहायता करने का आश्‍वासन देते हैं। इस अवसर पर ग्रामीणों ने डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी के इस कार्य की सराहना की तथा हर समय उनके साथ खड़े होने का आश्‍वासन भी दिया।

-----
लिंक शेयर करें