Breaking News

दो परिवारवादियों के बीच पिस रहे हैं समाजवादी – रामप्रकाश यादव

– कार्यकर्ताओं का सम्‍मान कहीं भी सुरक्षित है तो वह है भाजपा

– समाजवादी पार्टी में घुटन महसूस कर रहे हैं समाजवादी कार्यकर्ता

संतकबीरनगर। अरुण कुमार सिंह

समाजवादी पार्टी को छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए सपा के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्‍य व पूर्व जिलाध्‍यक्ष रामप्रकाश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी इस समय परिवारवादी पार्टी में तब्‍दील हो गई है। यही नहीं उसने एक और परिवारवादी पार्टी कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। इनके बीच कार्यकर्ताओं की स्थिति ऐसी हो गई है कि वे घुटन महसूस कर रहे हैं। दो परिवारवादी पार्टियों के बीच समाजवादी कार्यकर्ता पिस रहे हैं। ऐसे में निष्‍ठावान कार्यकर्ताओं के लिए पार्टी में कोई जगह ही नहीं बची है। जिसके चलते मुझे कार्यकर्ताओं का सम्‍मान करने वाली भारतीय जनता पार्टी में शामिल होना पड़ा।

भाजपा में शामिल हुए रामप्रकाश यादव का  जोरदार स्‍वागत
BJP, Khalilabad, booth sammelan, Modi, newskbn, Tappa ujiyar, Sardar, Jai Chaubey, Ram prakash yadav

रामप्रकाश यादव

उक्‍त बातें उन्‍होने पार्टी कार्यालय पर अपने स्‍वागत के बाद पत्रकार वार्ता को सम्‍बोधित करते हुए कही। उन्‍होने आगे कहा कि जबसे मैने होश संभाला और राजनीति का ककहरा शुरु किया तभी समाजवादी पार्टी के साथ जुड़ा रहा और कार्यकर्ताओं के सम्‍मान की राजनीति किया। मैने देखा कि भारत के प्रधानमन्‍त्री देश का नाम विदेशों में भी रोशन कर रहे हैं। पारिवारिक झगड़े में फंसी समाजवादी पार्टी की नीतियों से अब कार्यकर्ता उबने लगे हैं। तमाम ऐसे सपा के कार्यकर्ता व पदाधिकारी हैं जो पार्टी में घुटन महसूस कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी में समाजवाद का कहीं भी कोई नाम नहीं है। पूरी तरह से थोथा समाजवाद चल रहा है। जिस कांग्रेस से हम लोग सदन और सड़क पर लड़ाई लड़ते थे। उसी कांग्रेस के राहुल गांधी को समाजवादी नेता बनाने लगे हैं। आज दो परिवारवादी एक हो गए हैं। ऐसे में कार्यकर्ताओं के लिए पार्टी में कहीं कोई जगह नहीं बचती है। कार्यकर्ताओं का भविष्‍य अगर कहीं सुरक्षित है तो वह पार्टी केवल भारतीय जनता पार्टी है। आने वाले चुनाव में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का अस्तित्‍व समाप्‍त हो जाएगा।

 

रामप्रकाश यादव ने क्‍या कहा… देखें वीडियो

-----
लिंक शेयर करें