Breaking News

सूर्या एकेडमी के 10 वें वार्षिक क्रीड़ा समारोह का भव्‍य शुभारंभ, बच्‍चों में दिखी स्‍वस्‍थ प्रतिस्‍पर्धा

  • पहले दिन विविध प्रतियोगिता में खिलाडि़यों ने दिखाया अपना हुनर
  • एक दूसरे को पछाड़ने की प्रतियोगिता में लगे रहे बच्‍चे, दिखा जुनून

संतकबीरनगर, न्‍यूज केबीएन ।

सीबीएसई माध्‍यम से शिक्षा के क्षेत्र में जिले में बेहतर मानदण्‍ड स्‍थापित करने वाले संस्‍थान सूर्या इण्टरनेशनल सीनियर सेकेन्ड्री स्कूल में दसवें दो दिवसीय वार्षिक क्रीड़ा समारोह का शुभारंभ बुधवार को हुआ। पहले दिन की प्रतियोगिता के दौरान जहां बच्‍चों ने अपना हुनर दिखाते हुए विविध प्रतियोगिताओं में प्रतिस्‍पर्धा की। वहीं जोश और जुनून के साथ एक दूसरे को से प्रतिस्‍पर्धा के दौरान जूझते नजर आए।

कबूतर उड़ाकर प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए विधायक जय चौबे तथा अन्‍य

कार्यक्रम का शुभारंभ  सदर विधायक दिग्विजय नारायण चतुर्वेदी,  निदेशक डा0 उदय प्रताप चतुर्वेदी, प्रबन्ध निदेशक श्रीमती सविता चतुर्वेदी व राकेश चतुर्वेदी, जिलाध्यक्ष वालीबाल संघ संतकबीरनगर के द्वारा किया गया।  अतिथियों ने सर्वप्रथम माँ सरस्वती एवं विद्यालय के संस्थापक स्व0 पं0 सूर्य नारायण चतुर्वेदी के चित्र पर  माल्यार्पण किया।  दीप प्रज्वलन के बाद शान्ति के प्रतीक श्‍वेत कबूतरों को उड़ाया। तत्पश्चात मुख्य अतिथि श्री दिग्विजय नारायण चतुर्वेदी सदर विधायक का स्वागत व माल्यार्पण प्रधानाचार्य श्री रविनेश श्रीवास्वत के द्वारा शाल, बुके भेंटकर व बैज लगाकर किया। तदोपरान्त प्रबन्ध निदेशक डा उदय प्रताप चतुर्वेदी व राकेश चतुर्वेदी का स्वागत वरिष्ठ शिक्षक श्री नितेश द्विवेदी एवं प्रबन्ध निदेशक श्रीमती सविता चतुर्वेदी का स्वागत शिक्षिका तपस्या रानी सिंह के द्वारा किया गया।

विजेता प्रतिभागी प्रसन्‍न मुद्रा में

विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए सदर विधायक श्री दिग्विजय नारायण चतुर्वेदी ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज जब सम्पूर्ण विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है तब लोगों की गतिविधियां सीमित हो गई है। विशेषतः बच्चे घरों में ही अपना सम्पूर्ण समय व्यतीत करने के लिए बाध्य है एैसे समय में विद्यालय का यह स्वर्णिम आयोजन बच्चों में एक नई ऊर्जा का संचार करेगां एवं बच्चे आने वाली परीक्षाओं में लक्ष्य भेदन के लिए स्वयं को तैयार करने में सक्षम होंगें। प्रबन्ध निदेशक डा0 उदय प्रताप चतुर्वेदी ने कहा कि महामारी के समय विद्यालय अपने कर्तव्यों के प्रति दृढ़प्रतिज्ञ था, है और रहेगा। हमारा उद्देश्य पुस्तक ज्ञान के साथ-साथ अन्य प्रतियोगिताओं एवं खेलों के माध्यम से छात्रों का सर्वांगीण विकास करना एवं बच्चों में प्रतियोगिता की भावना को सृजित करना है ताकि भविष्य में वे अपने को समाज में सामन्जस्य बैठाने में तत्पर हो सकें। विद्यालय की प्रबन्ध निदेशक श्रीमती सविता चतुर्वेदी ने वार्षिक खेल आयोजन एवं उनका विद्यालय में महत्व पर प्रकाश डालते हुए इसे विद्यार्थी जीवन की महती आवश्यक बताया।

अतिथियों ने किया प्रतिभागियों का उत्‍साहवर्धन

खेलों का शुभारंभ राकेश चतुर्वेदी के द्वारा 100 मीटर दौड (बालिका वर्ग) की प्रतियोगिता से हुई जिसमें ग्रीन हाउस को प्रथम तथा ब्लू हाउस को द्वितीय तथा रेड हाउस को तृतीय स्थान मिला। तत्पश्चात 100 मीटर दौड़ (बालक वर्ग) में रेड हाउस को प्रथम, ब्लू हाउस को द्वितीय तथा ग्रीन हाउस को तृतीय स्थान मिला। शतरंज बालिका वर्ग में ग्रीन हाउस तथा रेड हाउस के बीच काटे का मुकाबला हुआ जिसमें ग्रीन हाउस ने रेड हाउस को हराकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता कक्षा नौवीं और दसवीं के मध्‍य सम्‍पन्‍न हुई, जिसमें कक्षा दसवीं ने बाजी मारकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। इसी क्रम में बैडमिन्टन, खो-खो, वालीबाल, कैरम, शतरंज एवं अन्य खेल आयोजित किये गये। वार्षिक क्रीडा समारोह के प्रथम दिन आये हुए सभी सम्मानित अतिथियों का विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री रविनेश श्रीवास्तव ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए खेलों के महत्व को बताया।इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक सर्वश्री संजय जायसवाल,    पवन मिश्रा, राजकुमार गौड, अष्टभुजा त्रिपाठी, घनश्याम त्रिपाठी, नितेश द्विवेदी, अविनाश श्रीवास्तव, बलराम उपाध्याय, संजित राव, अमित श्रीवास्तव, अमित राय, अरूण सिंह,  श्रीमती अर्चना त्रिपाठी,   तपस्या रानी सिंह, बबिता त्रिपाठी, नाजिया खातून, पिंकी अग्रहरी, रिया जायसवाल, गरिमा उपाघ्याय बलराम यादव, राहुल श्रीवास्तव इत्यादि लोगों का विषेश सहयोग रहा।

-----
लिंक शेयर करें