Breaking News

संतकबीरनगर में ऐसी ही शोभायात्रा के हकदार थे इमाम ए हिन्‍द भगवान श्री राम

संतकबीरनगर, न्‍यूज केबीएन ।  

इस देश में हुए हैं हज़ारों मलक सरिश्त ।
मशहूर जिसके दम से है दुनिया में नामे-हिन्द ।।
है राम के वजूद पे हिन्दोस्ताँ को नाज़।
अहले-नज़र समझते हैं उसको इमामे-हिन्द ।।

मशहूर शायर अल्‍लामा इकबाल ने मर्यादा पुरुषोत्‍तम भगवान श्री राम को लेकर यह नज्‍म लिखी थी। इसमें अल्लामा कहते हैं कि इस देश में हजारो देवता हैं, लेकिन जिसके दम पर यह दुनिया चल रही है वह हिन्‍द का ही एक नाम है। इसके बाद वे मर्यादा पुरूषोत्तम रामचन्द्र जी का परिचय कराते हैं। वे कहते हैं कि उनके वुजूद पर हिन्दुस्तान को नाज़ है। ‘अहले नज़र‘ उन्हें ‘इमाम ए हिन्द‘ समझते हैं। ‘इमाम ए हिन्द’ का अर्थ यह हुआ कि उनका आदर्श सारे हिन्दुस्तान को सच्चाई और नेकी का रास्ता दिखा रहा है। हक़ीक़त यह है कि रामचन्द्र को ‘इमाम ए हिन्द‘ केवल वही समझ सकता है जो ‘अहले नज़र‘ है।

उसी इमाम ए हिन्‍द मर्यादा पुरुषोत्‍तम भगवान श्री राम के भव्‍य मन्दिर निर्माण के लिए निकाली गई शोभायात्रा में जनसमुदाय की एकजुटता व स्‍वत: स्‍फूर्ति देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा था कि वाकई अल्‍लामा इकबाल ने उन्‍हें इमाम ए हिन्‍द की उपाधि यूं ही नहीं दी थी। महान सूफी संत कबीर की धरती जहां से शान्ति, एकता, प्रेम और सौहार्द्र का संदेश पूरे विश्‍व को जाता है। वहां पर मर्यादा पुरुषोत्‍तम श्रीराम के लिए इसी प्रकार की शोभयात्रा निकाली जानी चाहिए।

देखें शोभयात्रा से जुड़ी अन्‍य खबरें क्लिक करें ……

क्लिक करें – खलीलाबाद में श्रीराम शोभायात्रा में दलीय व सांगठनिक बन्दिशों को तोड़कर शामिल हुए लोग

क्लिक करें – भगवान श्रीराम की शोभायात्रा में उमड़े जनसैलाब का पुष्‍प वर्षा के साथ स्‍वागत वन्‍दन ( देवीलाल गुप्‍त की रिपोर्ट )

क्लिक करें – श्रीराम शोभायात्रा को सफल बनाने में सूर्यभान सिंह ‘ रिंकू ‘ की मेहनत लाई रंग

क्लिक करें – श्रीराम शोभायात्रा में प्रभा भवन से सैकड़ो युवाओं का दस्‍ता मोटरसाइकिल जुलूस निकाल जनजागरण करते हुए पहुंचा

-----
लिंक शेयर करें