Breaking News

खुशखबरी : अब बचत खाते से निकाल सकेंगे 50 हजार रुपए

नई दिल्ली. 20 फरवरी से सेविंग अकाउंट से एक हफ्ते में 24 हजार की जगह 50 हजार रुपए तक निकाले जा सकेंगे। इसके साथ ही आरबीआई ने 13 मार्च से सेविंग अकाउंट पर कैश विद्ड्रॉअल लिमिट खत्म करने का भी फैसला किया है।
 मॉनेटरी पॉलिसी के रिव्यू का एलान करते हुए आरबीआई के डिप्टी गवर्नर आर. गांधी ने कहा, “सेविंग अकाउंट पर विद्ड्रॉअल लिमिट की रोक दो स्टेप में खत्म की जा रही है। पहली स्टेप में इसे 20 फरवरी से 24 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपए किया जा रहा है। इसके बाद 13 मार्च से यह रोक पूरी तरह हटा ली जाएगी। बता दें कि आरबीआई ने 1 फरवरी से एटीएम, करंट अकाउंट्स, कैश क्रेडिट अकाउंट्स और ओवरड्राफ्ट अकाउंट्स से पैसा निकालने की लिमिट खत्म कर दी गई थी। उस वक्स सेविंग अकाउट पर कैश विद्ड्रॉअल की लिमिट 24000 रुपए थी, जिसे बरकरार रखा गया था।
नोटबंदी के बाद हुई थी दिक्कत
बता दें कि नोटबंदी के बाद आरबीआई ने नई करंसी की कमी को देखते हुए कैश विदड्रॉअल लिमिट तय की थी।जैसे-जैसे नई करंसी की दिक्कत कम होती गई, सरकार इसमें ढील देती रही।
नोटबंदी के बाद ऐसे बढ़ी ATM से विदड्रॉअल की लिमिट
नोटबंद के बाद 50 दिन तक एटीएम से 2000 रुपए निकालने की लिमिट तय की गई थी। बाद में इसे बढ़ाया गया। तब अपने बैंक के एटीएम से 2500 रुपए निकालने की इजाजत मिली। नोटबंदी के 50 दिन बाद दिसंबर के आखिरी में यह लिमिट बढ़ाकर 4500 रुपए कर दी गई।16 जनवरी को इसे बढ़ाकर 10 हजार रुपए किया गया। 1 फरवरी से इसे खत्म कर दिया गया। अब आप एक हफ्ते में कभी भी 24 हजार रुपए तक निकाल सकते हैं।
100 रुपए के नए नोट जारी करेगा RBI
 RBI ने पिछले हफ्ते जारी नोटिफिकेशन में कहा था कि 100 रुपए के नए नोट जारी किए जाएंगे। ये महात्मा गांधी सीरीज के 2005 के नोटों की तरह होंगे। इसमें महात्मा गांधी का फोटो होगा। दोनों नंबर पैनल पर R इनसेट लेटर दर्ज होगा। नोट पर आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल के दस्तखत होंगे। नोट के पिछले हिस्से पर प्रिटिंग ईयर के तौर पर 2017 दर्ज होगा। आरबीआई ने साफ किया है कि बैंक की तरफ से पहले जारी हुए 100 रुपए के नोट लीगल टेंडर बने रहेंगे। उनके इस्तेमाल पर कोई रोक नहीं रहेगी।
नए नोटों की कॉपी करना मुश्किल: RBI
आरबीआई के डिप्टी गवर्नर ने कहा कि नए नोटों की कॉपी करना मुश्किल है।  उन्होंने कहा कि शुरू में जाे नोट जब्त किए गए थे, वे नए नोटों की फोटोकॉपी थे।

-----
लिंक शेयर करें