Breaking News

गायत्री प्रजापति बोले: भाजपा के इशारे पर हुई मेरे खिलाफ साजिश

लखनऊ: महिला के साथ कथित यौन उत्पीडऩ मामले में उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के उच्चतम न्यायालय के आज के आदेश के बाद गायत्री ने इसे खुद के खिलाफ ‘राजनीतिक साजिश’ करार दिया। प्रजापति ने कहा, ‘‘मेरी छवि बिगाडऩे के लिए भाजपा के इशारे पर यह राजनीतिक साजिश है।’’  उनकी दलील है कि वह आरोप लगाने वाली महिला को नहीं जानते। ‘‘मैं हालांकि शीर्ष अदालत के आदेश का सम्मान करूंगा।’’

सपा ने प्रजापति को अमेठी से दिया है टिकट
प्रजापति को सत्ताधारी सपा ने अमेठी से फिर उम्मीदवार बनाया है, जहां 5वें चरण के तहत 27 फरवरी को मतदान होना है। उच्चतम न्यायालय ने उत्तर प्रदेश पुलिस को निर्देश दिया है कि वह 8 सप्ताह के भीतर मामले की स्थिति रिपोर्ट दाखिल करें।  प्रजापति पर 35 वर्षीय महिला का आरोप है कि जब वह उनसे 3 वर्ष पहले मिली थी तो उन्होंने उसके साथ बलात्कार किया।

पीड़िता ने लगाया रेप का आरोप
गायत्री ने पीडिता के कुछ आपत्तिजनक फोटो भी लिए और धमकी दी कि वह इन फोटो को सार्वजनिक कर देंगे। इस धमकी के दम पर वह 2 साल तक लगातार उसके साथ बलात्कार करते रहे।  महिला का आरोप है कि सपा में महत्वपूर्ण पद दिलाने के नाम पर उसके साथ प्रजापति और अन्य लोगों ने दो वर्ष तक लगातार बलात्कार किया। उत्तर प्रदेश पुलिस के एफआईआर दर्ज नहीं करने पर महिला ने शीर्ष अदालत की शरण ली।

अखिलेश ने बलात्कारियों को दिया संरक्षणः केशव प्रसाद मौर्य
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सिद्धार्थनगर की रैली में सपा की आलोचना करते हुए कहा कि वह अपनी छवि को लेकर गलत तस्वीर पेश कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि हत्या और महिलाआें पर अपराध के मामले में उत्तर प्रदेश शीर्ष स्थान पर पहुंच गया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने आरोप लगाया कि अखिलेश यादव ने अपराधियों और बलात्कारियों का संरक्षण किया है और इसी वजह से शीर्ष अदालत को हस्तक्षेप करना पडा।

यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाने वाली युवती को दी जाए सुरक्षाः पाठक
इस बीच भाजपा के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने यहां संवाददाताआें से कहा, ‘‘पार्टी पूरी गम्भीरता के साथ यह मांग करती है कि गायत्री प्रजापति पर यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाने वाली युवती को तत्काल सुरक्षा मुहैया करायी जाए।’’  इसके पीछे उनकी दलील थी कि सपा विधायक अरूण वर्मा पर भी इसी तरह के आरोप लगे थे और बाद में पीड़ित युवती की हत्या हो गई थी।

-----
लिंक शेयर करें