Breaking News

दादा- दादी का साथ बच्‍चों के लिए है जरुरी

दिल्‍ली। बदलते समय के साथ आज हर कोई पैसे कमाने की दौड़ में अपने घर से दूर चले जाते है या कुछ और कारणों की वजह से ज्वाइंट फैमिली में रहना पसंद नहीं करता लेकिन क्या आप जानते इससे आपके बच्चे पर क्या असर बड़ता है। बच्चों को अपने विकास के लिए अपने माता-पिता के साथ-साथ दादा-दादी की भी जरूर होती है। बच्चों के लिए अपने बर्जुगो का प्यार और दुलार काफी मायने रखता है। साथ ही बच्चों को परिवार की अहमियत,  भावनात्मकता का पता लगता है। इसलिए बच्चों को उनके दादा-दादी के प्यार से दूर न ले जाए। बल्कि उनकी अहसमियत बताए।


1. अच्छी देखभाल

बच्चों के ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है। पेरेंट्स बिजी लाइफ के चलते अपने बच्चों पर प्रोपर ध्यान नहीं दे पाते। ऐसे में दादी-दादी काफी काम आते है। वह बच्चों अच्छी देखभाल तो करते ही लेकिन साथ ही उनके अच्छे दोस्त भी बन जाते है।

2. खेलना और सीखना

छोटी उम्र में बच्चों को खेलने, बाते करने के लिए किसी के साथ की जरूरत होती है। इसलिए दादा-दादी उनके लिए इस दोस्त की कमी को पूरा करते है। साथ ही दादा-दादी के होने एक और बड़ा फायदा है उनसे कुछ न कुछ नया सुनने को मिलता ही रहता है।

3. अधिक गतिविधियों में शामिल

बच्‍चों को खेलना बहुत पसंद होता है। बच्‍चे खेल के दौरान ग्रैंड पैरेंट्स को टहलने के लिए ले जाते है, जिससे दादा-दादी की भी थोड़ी सी एक्‍सरसाइज हो जाती है, साथ बच्चा भी फिट बना रहता है।

4. समर्थन

किसी भी काम के लिए बड़ों का समर्थन जरूरी होता है। बच्चों के हर काम के लिए दादा-दादी जरूर उनका साथ देते है। इसलिए ग्रैंड पेरेंट्स बच्चों के फैवरेट होते है।

5. रोल मॉडल 

दादा-दादी बच्चो के रोल मॉडल होते है। बच्चे उनके व्‍यवहार, सिद्धांतों और मूल्‍यों से ही सब कुछ सीखते हैं।

-----
लिंक शेयर करें