Breaking News

… तो इसलिए सोते समय आती है मुह में लार

सेहतः सोते समय कुछ लोगोेें के मुंह में लार आती है। यह परेशानी ज्यादातर बच्चों को होती है लेकिन कई बार बड़ों को भी यह समस्या आ सकती है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे पेट में कीड़े, इंफैक्शन और अपच। आप भी इस परेशानी से जूझ रहे हैं तो इन बातों पर जरूर ध्यान दें।


1. कब आती है मुंह में लार
गहरी नींद सोने पर मुंह लार आने लगती है। सोते समय चेहरे की नसें आराम करती हैं। इससे मुुंह में ग्लैंड्स लार बननी शुरू हो जाती है। जिससे सोते समय हम निगलते नहीं है और करवट लेकर सोते है तो यह बहनी शुरू हो जाती है।

2. एसीडिटी
खान-पान में गड़बड़ी के कारण भी मुंह में लार आनी शुरू हो जाती है। बासी भोजन खाने से पेट में एसीडीटी बननी शुरू हो जाती है। खाना आसानी से नहीं पचता,जिससे पेट में गड़बड़ी हो जाती है और मुंह में लार बननी शुरू हो जाती है।

3. एलर्जी
मौसम में बदलाव के कारण एलर्जी हो जाती है,जिससे नाक बंद हो जाती है। इस कारण सोते समय मुंह से सांस लेनी पड़ती है और लार निकलनी शुरू हो जाती है।

5. टोंसिलाइटिस
गले में सूजन आ जाने को टोंसिल्स ग्लैंड्स कहते है। इसके कारण गले में लार जाने का रास्ता छोटा हो जाता है। जिससे सोते गले के अंदर लार आने की बजाए बाहर आनी शुरू जाती है।

6. दवाइयां
दवाइयों का ज्यादा सेवन करने से भी इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। अपनी दिनचर्या में योग और व्यायाम जरूर करें और दिन में 8-10 गिलास पानी जरूर पीएं।

-----
लिंक शेयर करें