Breaking News

सपा- बसपा समर्थकों के बीच चलीं गोलियां, 4 नेता घायल

महोबा. यूपी में के ल‍िए गुरुवार को बुंदेलखंड के महोबा में मतदान हो रहा है, लेकिन उससे पहले सुबह करीब 3 बजे यहां सपा और बसपा सपोर्टर्स के बीच खूनी संघर्ष हो गया। इस घटना में सपा कैंडि‍डेट सिद्धगोपाल साहू के बेटे साकेत साहू और सपा यूथ ब्र‍िग्रेड के जिलाध्यक्ष सहित 4 लोग घायल बताए जा रहे हैं।

कैसे घटी यह घटना

यह घटना महोबा ज‍िले के बजरिया पुलि‍स चौकी से कुछ दूरी पर हुई है। घटना का आरोप बीएसपी कैंडि‍डेट अरिमर्दन सिंह के बेटे हिमांचल और उनके नाती सहित दो दर्जन से अधिक लोगों पर है। इन सबके खिलाफ पुलिस को तहरीर दी गई है। इसके साथ ही सपा कैंडि‍डेट ने पुल‍िस अधीक्षक पर बीएसपी कैंडि‍डेट से मिलीभगत के गंभीर आरोप लगाए हैं। घटना के अनुसार, सपा कैंड‍िडेट सिद्धगोपाल साहू का ड्राइवर रेलवे स्टेशन से चाय पीकर लौट रहा था। तभी बजरिया चौकी के पास बीएसपी समर्थकों की कार ने टक्कर मार दी।इस बात की जानकारी मिलने पर सपा कैंड‍िडेट का बेटा साकेत साहू और मुलायम सिंह यूथ बिग्रेड के जिला अध्यक्ष तारिक सहित एक दर्जन साथी मौके पर पहुंचे।आरोप है क‍ि वहां पहले से घात लगाए बीएसपी कैंडि‍डेट अरिमर्दन सिंह का पुत्र हिमांचल सिंह, नाती अभिमन्यु सिंह सहित दो दर्जन से अधिक बसपा समर्थक उन पर टूट पड़े। महोबा ज‍िले के बजरिया पुल‍िस चौकी से चार कदम की दूरी पर दोनों पक्षों में तनातनी हो गई। आरोप है क‍ि मदद के लिए सपा समर्थक बजरिया चौकी पहुंचे तो वर्दी धारियों ने हाथ खड़े कर दिए। इसके बाद हिमांचल सिंह सहित उनके समर्थकों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इस घटना में सपा कैंड‍िडेट के बेटे साकेत साहू, सपा यूथ बिग्रेड के जिलाध्यक्ष अब्दुल तारिक, सपा कार्यकर्ता अमित सहित एक अन्य को गोली लगी। घटना को अंजाम देकर सभी बसपाई मौके से फरार हो गए।  घटना की सूचना मिलते ही एसपी गौरव सिंह सहित डीएम अजय कुमार और भारी पुलि‍स बल मौके पर पहुंच गया। पुलिस ने सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। सपा कैंड‍िडेट सिद्धगोपाल साहू ने 5 नामजदसहित दो दर्जन से अधिक अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी है।

एसपी पर लगा अारोप
सपा कैंड‍िडेट सिद्धगोपाल ने महोबा के एसपी गौरव सिंह पर बीएसपी कैंड‍िडेट से मिलीभगत कर घटना को अंजाम होना बताया है। उनकी मानें तो कई बार उनसे उनके परिवार की सुरक्षा को लेकर कहा गया मगर उन्होंने कभी मदद नहीं की और आज ये घटना हो गई। साकेत सहित दो लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्हें इलाज के लिए कानपुर रेफर कर दिया गया।

-----
लिंक शेयर करें