Breaking News

देवरिया की दुल्‍हन 11 घण्‍टे में कानपुर से हुई फरार, जेवर व गहने भी ले गई

कानपुर. यूपी के देवरिया जिले से कानपुर में ससुराल पहुंची दुल्हन के 11 घंटे बाद ही फरार होने का मामला सामने आया है। लोगों को इस बात का पता तब चला, जब कंबल हटाकर देखा और उसके नीचे दुल्हन की जगह उसका बैग और तकिया और पर्स रखा था।

यह है देवरिया की अर्चना जो कानपुर से हो गई फरार

सुबह कंबल हटाकर देखा तो नजारा देख उड़े होश
मामला कानपुर जिले के नजीराबाद थाना क्षेत्र का है। यहां रहने वाले रंग लाल (55) अपने परिवार के साथ रहते हैं। इनके 2 बेटे रामबाबू (28) और श्याम बाबू (24) हैं। 22 फरवरी को श्याम की देवरिया की अर्चना (25) से पूरे रीति-रिवाज से हुई थी। बारात विदा होकर 23 फरवरी को कानपुर पहुंची। शादी में थके सभी लोग रात करीब 8 बजे खाना खाकर सो गए। शुक्रवार सुबह घर की बड़ी बहु लक्ष्मी ने दुल्हन अर्चना को नहाने के लिए आवाज दी। लक्ष्मी ने बताया- अर्चना का कोई जवाब नहीं आने पर जब मैंने उसके पास जाकर कंबल हटाया, तो मैं हैरान रह गई। कंबल में अर्चना नहीं बल्क‍ि तकिया, उसका बैग और पर्स रखा था। यह देख मैंने घरवालों को इसकी सूचना दी। फैमिली ने बताया, रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन जाकर देखा, लेकिन बहू का कोई पता नहीं चला। मामले की जानकारी अर्चना के मायके वालों और पुलिस को दे दी गई है।

जेवर और पैसे भी लेकर भागी
अर्चना के पति श्याम बाबू ने बताया- शादी में हमने कोई दहेज नहीं लिया, बल्कि अपने पास से सब खर्च किया। विदाई के बाद रास्ते में अर्चना फोन पर बार-बार बात कर रही थी। हमने सोचा अपने घरवालों से बात कर रही होगी। लेकिन बाद में उसके घरवालों ने बताया कि विदाई के बाद अर्चना ने उनसे बात ही नहीं की। यही नहीं, उसके फरार होने के बाद पता चला कि वह डेढ़ लाख के जेवर और 20 हजार नगद लेकर भागी है। उसका फोन भी स्वीच ऑफ जा रहा है। मुझे पूरा यकीन है कि उसका कोई आश‍िक है, जिसके साथ वो भागी है। मुझे उसके प्यार से कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन उसे ये शादी से पहले बता दे चाहिए था। मेरी फैमिली की बदनामी तो न होगी।

थाने में अपनी शिकायत लेकर पहुंचा पति

-----
लिंक शेयर करें