Breaking News

पांचवे चरण का मतदान जारी, 11 प्रतिशत से अधिक मतदान

खनऊ.यूपी में पांचवें फेज के ल‍िए सोमवार को 11 जिलों की 51 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। अखिलेश सरकार की कैबिनेट के गायत्री प्रसाद प्रजापति, पवन पांडे जैसे 9 मंत्रियों की किस्मत भी दांव पर है। इस फेज में वोटर्स की तादाद 1 करोड 84 लाख है। बता दें, अंबेडकरनगर की आलापुर सीट पर एक कैंडिडेट के निधन की वजह से वोटिंग 8 मार्च को होगी। पहले इस फेज में 52 सीटों पर चुनाव होना था। सुबह 9 बजे तक 10.77% वोटिंग हो चुकी है।
 अखिलेश के मंत्री अवधेश प्रसाद की गाड़ी पर देर रात हुए हमला। चुनाव प्रचार के दौरान उनकी सफारी गाड़ी को निशाना बनाया गया।पुलिस ने इस मामले में बीजेपी के 9 वर्कर्स को अरेस्ट किया है। वहीं गोंडा के गांधी विद्यालय के बूथ नंबर 51 और 52 के ईवीएम मशीन ख़राब, करीब आधे घंटे से मतदान नहीं हुआ। गायत्री प्रजापति ने अमेठी में वोट डालने के बाद कहा- “अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे। हम 50 हजार के मार्जिन से जीतने जा रहे हैं। आज जनता की अदालत में फैसला हो जाएगा।”
इन कैबिनेट मंत्रियों की साख दांव पर
 यूपी इलेक्शन में पांचवां फेज काफी अहम माना जा रहा है। अखिलेश सरकार के इन कैबिनेट मंत्रियों की साख दांव पर है।
1. अमेठी सीट पर गायत्री प्रसाद प्रजापति
2. अयोध्या से पवन पांडेय
3. अकबरपुर से राममूर्ति वर्मा
4. महादेवा सुरक्षित क्षेत्र से रामकरन आर्य
5. तरबगंज क्षेत्र से विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह
6. मिल्कीपुर से अवधेश प्रसाद
7. जलालपुर से शंखलाल मांझी
8. गैंसड़ी सीट से शिव प्रताप यादव
9. मटेरा सीट पर यासर शाह
11 जिलों में हो रही है वोटिंग
अम्बेडकरनगर, अमेठी, बहराइच, बलरामपुर, बस्ती, फैजाबाद, गोंडा, संत कबीरनगर, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सुल्तानपुर जिले शामिल हैं। बता दें, अंबेडकरनगर की आलापुर सीट पर एक कैंडिडेट के निधन की वजह से वोटिंग 8 मार्च को होगी।
2012 में किस पार्टी को कितनी सीटें मिलीं
इस फेज के जो जिले हैं उनमें 2012 के चुनाव में सपा: 37, बसपा:3, बीजेपी: 5, कांग्रेस: 5, पीस पार्टी:2
ये चुनेंगे सरकार
 पांचवें फेज में 1.84 करोड़ वोटर्स अपने मतदान का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 85 लाख महिलाएं, 99.50 लाख पुरुष मतदाता शामिल हैं। वहीं, 946 थर्ड जेंडर मतदाता शामिल हैं।
ये दावेदार हैं
 टोटल कैंडिडेट्स: 607 महिला कैंडिडेट: 43 टॉटल पॉलिटिकल पार्टीज: 75, नेशनल पार्टी: 6, स्टेट पार्टी: 4, गैर मान्यता प्राप्ता पार्टी: 65, निर्दलीय कैंडिडेट्स: 220
किस पार्टी में कितने दागी
 बीजेपी:51 में से 38 (41%)  बीएसपी: 51 में से 23 (45%) सपा:42 में से 17 (41%) कांग्रेस: 14 में से 3 (21%)  निर्दलीय:220 में से 19 (9%)

-----
लिंक शेयर करें