Breaking News

योगी का निर्देश: प्रबन्‍धक ने छोड़ा पान, सुधर गए स्‍कूल टीचर

  • एचआर इण्‍टर कालेज के प्रबन्‍धक ने कहा कि नहीं खाएंगे स्‍कूल में पान
  • बिना किसी दबाव के ही स्‍कूल के टीचर व कर्मचारी सुधर गए

संतकबीरनगर। अरुण सिंह

प्रदेश के मुख्‍यमन्‍त्री के नए निर्देशों का लोग किस तरह से अनुपालन कर रहे हैं, यह उस समय देखने को मिला जब जिला मुख्‍यालय पर स्थित एचआर इण्‍टर कालेज के प्रबन्‍धक ने कालेज में पान खाने से मना कर दिया। उन्‍होने पान लेने जा रहे एक व्‍यक्ति को न सिर्फ रोक दिया। नतीजा यह हुआ कि कालेज के शिक्षकों ने पान स्‍कूल में पान खाना ही छोड़ दिया।

HR , inter, collage, prabandhak, amarnath, rungta, khalilabad, santkabirnagar, yogi, aaditynath, nirdesh, pan, gutkha,

अमरनाथ रुंगटा, प्रबन्‍धक

हुआ यूं कि परीक्षाओं के दौरान व्‍यवस्‍था का जायजा लेने के लिए हीरालाल राम निवास इण्‍टर कालेज के प्रबन्‍धक अमरना‍थ रुंगटा स्‍कूल में गए हुए थे। कार्य सम्‍पन्‍न हुआ। प्रबन्‍धक जी कभी कभार पान खा लेते हैं। नतीजा यह हुआ कि उनके एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने कहा कि पान लाएं सर। इसके बाद प्रबन्‍धक जी ने जो बातें कहीं वह दूसरों के लिए प्रेरणादायक हैं। उन्‍होने कहा कि प्रदेश के मुख्‍यमन्‍त्री मा. योगी आदित्‍यनाथ ने पान खाने से मना किया है। इसलिए उनके आदेशों को शिरोधार्य मानते हुए हम तो अनुपालन करेंगे ही। इसके बाद वे वहां से चले गए। उनके जाने के बाद कर्मचारियों, शिक्षकों ने तय किया कि कोई भी स्‍कूल में पान नहीं खाएगा। साथ ही पूरे स्‍कूल परिसर में पान की पीक हटाने के साथ ही स्‍कूल में प्‍लास्टिक की वस्‍तुओं पर प्रतिबन्‍ध लगाने का फैसला भी लिया गया।

हम देखें तो प्रबन्‍धक ने किसी को बाध्‍य नहीं किया कि वे पान न खाएं। उन्‍होने खुद स्‍कूल में पान न खाने का फैसला किया। इसके बाद सभी शिक्षकों के साथ ही साथ अन्‍य लोग खुद ब खुद सुधर गए। सभी प्रबन्‍धक शायद इस तरह का निर्णय ले लें तो व्‍यवस्‍था में सुधार हो जाएगा।

HR , inter, collage, prabandhak, amarnath, rungta, khalilabad, santkabirnagar, yogi, aaditynath, nirdesh, pan, gutkha,

हीरालाल रामनिवास इण्‍टर कालेज , खलीलाबाद

-----
लिंक शेयर करें