Breaking News

साइंस एक्‍सप्रेस को देखने के लिए अन्तिम दिन उमड़े छात्र, ट्रेन मऊ रवाना

  • गोरखपुर और बस्‍ती के स्‍कूलों से भी आए छात्र छात्राएं
  • तकरीबन 2 लाख से अधिक छात्र छात्राओं ने देखी ट्रेन

संतकबीरनगर। अरुण सिंह

बच्‍चों को विज्ञान तथा जलवायु परिवर्तन के लिए जागरुक करने के उद्देश्‍य से जिले के खलीलाबाद रेलवे स्‍टेशन पर आई साइंस एक्‍सप्रेस में अन्तिम दिन गोरखपुर और बसती से भी विभिन्‍न स्‍कूलों के छात्र छात्राएं पहुंचे। चार दिनों में इस ट्रेन में तकरीबन 2 लाख से अधिक छात्र छात्राओं ने आकर ट्रेन में विज्ञान व जलवायु परिवर्तन की जानकारी ली।

G R, academy, khalilabad, santkabirnagar, devdand, mahanpar, science, express, ghanshyam, tripathi, mahuli, tappa ujiyar, bakhira, mehdawal

साइंस एक्‍सप्रेस को देखने के लिए लाइन में लगे हुए जीआर एकेडमी खलीलाबाद के छात्र छात्राएं

यह समाचार देखने के लिए नीचे का लाल बटन दबाएं…

जीआर एकेडमी के बच्‍चों ने देखी साइंस एक्‍सप्रेस

भारत सरकार की तरफ से बच्‍चों को विज्ञान के प्रति समझ विकसित करने के लिए साइंस एक्सप्रेस क्लाइमेट एक्शन स्पेशल ट्रेन संचालित की जा रही है। यह ट्रेन 22 फरवरी को आई थी। पहले दिन तो भीड़ कम रही, लेकिन शनिवार को अंतिम दिन रेलवे स्टेशन पर भीड़ उमड़ आई। सुबह दस बजे से ही बड़ी तादाद में लोग ट्रेन देखने पहुंचे। आलम यह था कि प्लेटफार्म पर स्टेशन के बाहर लंबी लाइन लग गई। ट्रेन स्कूली बच्चों से लेकर शिक्षक शिक्षिकाओं और अभिभावकों ने ट्रेन में विज्ञान के मॉडल देखे। इसके जरिए पर्यावरण संरक्षण, जैव विविधता, विज्ञान के इलेक्ट्रानिक, जलवायु परिवर्तन आदि के बारे में जानकारी प्राप्त हुई। बच्चों ने विज्ञान का जादू, खेल, पहेलियों जैसे रोचक तथ्यों के जरिए विज्ञान के बारे में बताया गया। प्रशिक्षकों ने ध्वनि, प्रकाश, गति के नियम, वायु दबाव, संतुलित आहार जैसे बदुओं के बारे में भी जानकारी दी।

G R, academy, khalilabad, santkabirnagar, devdand, mahanpar, science, express, ghanshyam, tripathi, mahuli, tappa ujiyar, bakhira, mehdawal

साइन्‍स एक्‍सप्रेस देखने के लिए लाइन लगाए हुए विकास भारती स्‍कूल की छात्राएं

ट्रेन के स्टाफ ने छात्र छात्राओं को जैव विविधता, विज्ञान और गणित की अवधारणा को समझाया। टीम ने छात्र छात्राओं को उपहार भी दिए। साइंस एक्सप्रेस में अत्याधुनिक अनुसंधान, जैव विविधता एवं संरक्षण आदि उपायों का जाने के लिए सुबह नौ बजे से ही कतारें लग गई। 10 बजे जैसे ही प्रदर्शनी खुली 16 डिब्बे वाली यह ट्रेन खचाखच भर गई। विभिन्‍न स्‍कूलों के साथ ही साथ परिषदीय स्‍कूलों के छात्र व छात्राएं भी पहुंचे। वहां पर जाकर छात्र छात्राओं में ट्रेन में मौजूद विभिन्‍न प्रकार की चीजों को देखा।

G R, academy, khalilabad, santkabirnagar, devdand, mahanpar, science, express, ghanshyam, tripathi, mahuli, tappa ujiyar, bakhira, mehdawal

साइंस एकसप्रेस जो रवाना हो गई अपने दूसरे पड़ाव पर

G R, academy, khalilabad, santkabirnagar, devdand, mahanpar, science, express, ghanshyam, tripathi, mahuli, tappa ujiyar, bakhira, mehdawal

साइन्‍स एक्‍सप्रेस के सामने जीआर एकेडमी के शिक्षक, छात्र छात्राएं व प्रबन्‍ध तन्‍त्र के लोग

-----
लिंक शेयर करें