Breaking News

स्‍वच्‍छ भारत के सपने को साकार कर रहा महुअवां खुर्द गांव

  • रोज सुबह ही उठकर गांव के लोग करते हैं सफाई
  • गांव के प्रधान व नवयुवक मंगल दल का अभियान

फाजिलनगर (कुशीनगर)। केबीएन न्‍यूज

महुअवा खुर्द, कुशीनगर, फाजिलनगर, गांव के लोग, सफाई का कार्य, swachchh ganv, modi, mission, safaie

महुअवा खुर्द गांव में कचरे की सफाई करते हुए गांव के लोगों के साथ ग्राम प्रधान व गांव के लोगों की टीम

गांव में सफाईकर्मी आए या न आए, लेकिन गांव के लोग खुद ही झाडू लेकर सफाई में जुट जाते हैं। चाहे वह गांव की गन्‍दी गलियां हों, या फिर गांव की नाली। हर जगह उनकी टीम पहुंचती है और गांव की सफाई करती है। स्थिति यह है कि एक महीने में ही यह गांव चमाचम हो गया है। सच कहें तो देश के प्रधानमन्‍त्री नरेन्‍द्र मोदी के स्‍वच्‍छ भारत के सपने को यह गांव साकार कर रहा है।

हम बात कर रहे हैं फाजिलनगर ब्‍लाक के छोटे से गांव महुअवां खुर्द की। तकरीबन 5 हजार से अधिक आबादी वाले इस गांव के सभी लोगों को इस बात की फिक्र है कि उनका गांव कैसे साफ रहे।

mahuawa, ganw, modi, newskbn, swachchh, bharat, mission, kushinagar

गांव के स्‍कूल की सफाई में जुटे हुए गांव के लोगों की टीम

गांव के लोगों में एक जागरुकता का माहौल देखा जा रहा है। चाहे छोटा बच्‍चा हो या फिर गांव का बड़ा आदमी। चाहे छोटी जाति का हो या बड़ी जाति का हो। इससे किसी को कोई मतलब नहीं है। सुबह ही सब लोग जुट जाते हैं गांव की सफाई करने के लिए। उसी दिन यह चिन्हित भी कर लिया जाता है कि दूसरे दिन गांव का कौन सा हिस्‍सा साफ करना है। इस गांव की स्थिति यह है कि गांव के चारो तरफ सड़कों का जाल है। लेकिन सभी सड़कें साफ रहती हैं। गांव के प्रधान पृथ्‍वी राज सिंह के साथ ही साथ नवयुवक मंगल दल के अध्‍यक्ष व समाजसेवी विकास तिवारी के नेतृत्‍व में मनोज सिंह, सुरेन्‍द्र नाथ शुक्‍ला, अशोक सिंह, सुदिना अंसारी, पल्‍टन गौड़, कैलाश सिंह, जयकिशन आर्या, दुर्गेश प्रसाद, सुबास सिंह, अंकित मिश्रा, निजामुददीन अंसारी, आलोक सिंह, निर्भय तिवारी, रामचन्‍द्र सिंह, आत्‍मा शुक्‍ल इत्‍यादि लोग मिल जुलकर सफाई का कार्य करते हैं।

विकास के नेतृत्‍व में संगठित हुए युवक

विकास तिवारी

समाजसेवी और गांव के नवयुवक मंगल दल के अध्‍यक्ष विकास तिवारी के नेतृत्‍व में गांव के युवा सं‍गठित हुए। इन युवाओं ने रोज सुबह ही गांव की सफाई का जिम्‍मा उठाया। विकास खुद ही सुबह उठ जाते हैं और अपने गांव के लोगों को एकत्रित करके सफाई में भिड़ जाते हैं।

क्‍या कहते हैं गांव के प्रधान

गांव के प्रधान पृथ्‍वीराज सिंह कहते हैं कि जब अपना गांव साफ रहेगा तो गांव के लोग बीमारियों से बचेंगे। बाहर से गांव में आने वाले लोगों को भी गांव अच्‍छा लगेगा। सभी लोग सुबह उठेंगे तो उनका स्‍वास्‍थ्‍य भी ठीक रहेगा। गांव की प्रगति के लिए जो भी करना होगा वह हम निरन्‍तर करेंगे। इसके लिए हमें चाहे जो भी करना पड़े। जब गांव बढ़ेगा तभी तो हमारा देश बढ़ेगा।

-----
लिंक शेयर करें