Breaking News

आज भी मुख्‍यमन्‍त्री हैं अखिलेश यादव……प्राइमरी व जूनियर स्‍कूलों में

–  शपथ ग्रहण के 10 दिन बीतने के बाद भी नहीं बदला गया नाम

– यही नहीं शिक्षा मन्‍त्री के रुप में मौजूद है अहमद हसन का नाम

संतकबीरनगर, न्‍यूज केबीएन टीम

प्राथमिक शिक्षा जो बच्‍चों के लिए एक रीढ़ का काम करती है। उस प्राथमिक शिक्षा पर कितना ध्‍यान जिले के अधिकारी व शिक्षक दे रहे हैं इसका अन्‍दाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि आज भी स्‍कूलों की दीवारों पर लिखा है कि प्रदेश के मुख्‍यमन्‍त्री अखिलेश यादव हैं। यही नहीं शिक्षा मन्‍त्री के नाम पर अहमद हसन का नाम अंकित है।

सेमरियांवा क्षेत्र का एक स्‍कूल जहां आज भी मुख्‍यमन्‍त्री हैं अखिलेश यादव, शिक्षा मन्‍त्री अहमद हसन

प्रदेश में मुख्‍यमन्‍त्री के रुप में योगी आदित्‍यनाथ को शपथ ग्रहण किए 10 दिन हो चुके हैं। लेकिन प्राथमिक व जूनियर स्‍कूलों की स्थिति यह है कि अधिकांश स्‍कूलों पर मुख्‍यमन्‍त्री का नाम अखिलेश यादव ही लिखा गया हैं। यही नहीं शिक्षा मन्‍त्री का नाम अहमद हसन लिखा है। जबकि नया शिक्षा सत्र शुरु होने वाला है। 10 दिन बीतने के बाद भी नाम न बदलने के पीछे शिक्षकों की मंशा क्‍या है यह तो तय नहीं किया जा सकता। लेकिन इतना जरुर है कि इसपर किसी का ध्‍यान अभी तक नहीं गया। केवल उन्‍हें अपनी सुविधाओं की चिन्‍ता रहती है। बच्‍चों को क्‍या जानकारी दे रहे हैं। इसके बारे में कोई भी चिन्‍ता नहीं है। आने वाला बच्‍चा जब वहां पर पढ़ेगा तो यही जानेगा कि मुख्‍यमन्‍त्री अखिलेश यादव ही हैं।

पुरानी नहीं ताजा तस्‍वीरें हैं, रिजल्‍ट वितरण की जिसमें देखा जा सकता है

क्‍या नाम लिखवाने के लिए बजट का इन्‍तजार है

प्राथमिक व जूनियर स्‍कूलों में अभी तक मुख्‍यमन्‍त्री व शिक्षा मन्‍त्री का नाम क्‍यों बदला नहीं गया यह विचारणीय प्रश्‍न है। अगर इइन नामों को बदला नहीं जा रहा है तो उनको मिटाया तो जा सकता है। 10 दिन का समय मामूली नहीं होता है। एक पेण्‍टर कई स्‍कूलों पर  नाम को बदल सकता है। लेकिन न सुधरने का प्रण कर चुके शिक्षा विभाग के अधिकारियों व शिक्षकों पर इस बात से कोई मतलब नहीं है।

-----
लिंक शेयर करें