Breaking News

योगी सरकार का फरमान : प्राइमरी स्‍कूलों में मनाई जाएगी अम्‍बेडकर जयन्‍ती, नहीं रहेगी छुट्टी

लखनऊ: अंबेडकर जयंती को लेकर योगी सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी प्राइमरी स्कूलों को अंबेडकर जयंती मनाने के निर्देश दिए गए हैं। अभी तक १४ अप्रैल के दिन छुट्टी होती थी, लेकिन अब स्कूलों के टीचर्स और बच्चों को अंबेडकर जयंती पर होने वाले प्रोग्राम में शामिल होने का निर्देश दिया गया है।

सरकार ने किसलिए लिया ये फैसला 
योगी सरकार ने 14 अप्रैल को प्राइमरी स्कूलों में छोटे-छोटे प्रोग्राम कराए जाने का निर्देश दिया है। सरकार ने ये फैसला इसलिए लिया गया है, ताकि बच्चों को डॉ. अंबेडकर के बारे में जानकारी दी जा सके कि वह कौन थे और उन्होंने देश के लिए क्या किया।

कौन थे डॉ. भीमराव अंबेडकर?
बाबा साहेब के नाम से लोकप्रिय डॉ. भीमराव अंबेडकर प्रमुख रूप से भारतीय संविधान निर्माता के रूप में जाने जाते हैं। डॉ. भीमराव अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम रामजी मालोजी सकपाल और माता का नाम भीमाबाई था। उन्होंने दलित बौद्ध आंदोलन को प्रेरित किया और दलितों से होने वाले सामाजिक भेदभाव के खिलाफ अभियान चलाया। वे स्वतंत्र भारत के पहले कानून मंत्री और भारतीय संविधान के प्रमुख वास्तुकार थे।अंबेडकर ने कोलंबिया यूनिवर्सिटी और लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स दोनों ही यूनिवर्सिटीज से इकोनॉमिक्स में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की थी। 1956 में उन्होंने बौद्ध धर्म अपना लिया। 1990 में मरणोपरांत उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

-----
लिंक शेयर करें