Breaking News

नए साल के जश्‍न के साथ समाप्‍त हुआ भाजपा का कमल मेला

कमल मेले में गाडी पर बैठे बच्‍चों की सेल्‍फी लेती हुई महिलाओं की टोली

– मेले का लोगों ने जाकर सपरिवार लिया आनन्‍द, बच्‍चों में रहा उत्‍साह

-लेजर शो, कठपुतली व नृत्‍य देखने के लिए उमड़ी लोगों की भारी भीड़

संतकबीरनगर। केबीएन न्‍यूज

मोदी के साथ सेल्‍फी खिंचवाती महिला व युवती

भारतीय जनता पार्टी की टीम नमो विद मोदी के द्वारा जूनियर हाईस्‍कूल खलीलाबाद में आयोजित किए गए तीन दिवसीय कमल मेला के अन्तिम दिन नव वर्ष के अवसर पर लोगों की भीड़ से मेला परिसर गुलजार रहा। इस दौरान मोदी के संग सेल्‍फी का काफी क्रेज दिखाई पड़ा। सेल्‍फी लेने के लिए लोग कतारों में लगे रहे। वहीं लेजर शो व बच्‍चों का डान्‍स देखने के लिए युवाओं की भीड़ मेला परिसर में जमी रही।

मेले के अन्तिम दिन नव वर्ष के अवसर पर मेला परिसर दर्शकों से खचाखच भरा रहा। आलम तो यह रहा कि तिल रखने की जगह नहीं थी। अन्तिम दिन मोदी संग सेल्फी लेने के लिए सेल्‍फी काउण्‍टर पर लोगों की भारी भीड़ देखी गर्इ। महिलाओं और पुरुषों के लिए बनाए गए अलग अलग काउण्‍टरों पर जाकर लोग मोदी संग सेल्‍फी लेते थे। आयोजक मण्‍डल के लोग उस सेल्‍फी की तुरन्‍त ही फोटो बनाकर दे देते थे। वहीं लेजर लाइट शो देखने का युवाओं में काफी जोश रहा। स्कूली छात्रों के अलावा तमाम युवक लेजर लाइट शो को देखने लाइन में लगे रहे। युवाओं और बच्चों में लेजर लाइट शो देखने का क्रेज बना रहा। मेले में मंच के पीछे विशाल स्क्रीन लगाई गई थी। स्क्रीन पर दिन पर मोदी सरकार की कल्याणकारी योजनाएं दिखाई गईं। खासतौर से महिलाओं, किसानों और गरीबों के लिए चालू की गई योजनाओं का गुणगान किया। प्रदेश सरकार की नाकामयाबी भी स्क्रीन के माध्यम से दिखाई गई। पीएम मोदी की नोटबंदी को गरीबों और देश के लिए जरूरी बताया गया। यही नहीं बच्‍चों के कार्यक्रम भी आयोजित किए गए। इन कार्यक्रमों में बच्‍चों ने मंच पर जाकर अपने कार्यक्रमों की प्रस्‍तुति से सभी को मन्‍त्रमुगध कर दिया। मेला के दौरान नमो विद मोदी की टीम के प्रभाकर मिश्रा के साथ ही साथ उनकी टीम पूरी तरह से लगी रही ।

सेल्‍फी विद मोदी के लिए लगी हुई कतारें

महिलाओं ने अपने हाथों में रचाया कमल

महिलाओं के हाथों में कमल रचती हुई अपूर्वा जायसवाल

मेले में महिलाओं के हाथों पर निशुल्‍क मेंहदी लगाने की भी व्‍यवस्‍था की गई थी। यहां पर अपने हाथों में कमल बनवाने के लिए भारी संख्‍या में महिलाएं उमड़ी। स्थिति तो यह थी कि मेंहदी लगवाने वाले कलाकारों का सहयोग देने के लिए खलीलाबाद की अपूर्वा और अपर्णा भी कलात्‍मक मेंहदी लगाने में जुट गई।

बच्‍चों ने मनोरंजन के साथ लिया खाने पीने का लुत्‍फ

इस कमल मेले में बच्‍चों के लिए कठपुतली शो, मैजिक शो के साथ ही ट्वाय ट्रेन की भी व्‍यवस्‍था की गई थी। बच्‍चों के लिए लगाए गए विभिन्‍न प्रकार के झूलों के साथ उन्‍हें चाय व पकौड़ी फ्री में दी जा रही थी। पापकार्न स्‍टाल पर उन्‍हें मुफ्त पापकार्न दिया जा रहा था। यही नहीं सीलबन्‍द पानी भी फ्री दिया जा रहा था।

कमल मेला में अपनी मम्‍मी के साथ घूमती एक बिटिया

-----
लिंक शेयर करें