Breaking News

शहीद की मां ने 25 लाख का चेक लेने से किया इनकार : मन्‍त्री ने कही मार्मिक बात, तो लिया चेक

कानपुर: कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के परिजनों को उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री सतीश महाना आर्थिक मदद देने पंहुचे। लेकिन शहीद की मां ने आर्थिक मदद लेने से साफ मना कर दिया।

25 लाख रुपए का चैक लेकर पंहुचे थे कैबिनेट मंत्री सतीश महाना
प्रदेश सरकार का प्रतिनिधि मण्डल कैप्टन आयुष यादव की शहादत के बाद आर्थिक मदद की 25 लाख की चेक लेकर पहुंचा था। प्रतिनिधि मण्डल में शामिल सभी नेताओं और अधिकारियों को शहीद के परिजनों ने सम्मानपूर्वक बैठाया। लेकिन जब कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने आर्थिक मदद की चेक शहीद की मां को सौंपना चाहा तो उन्होने विनम्रतापूर्वक इसे लेने से मना कर दिया।

आपका एक बेटा शहीद हो गया दूसरा अभी जिंदा है
इसके बाद मंत्री कुर्सी से खड़े हो गए और शहीद की मां के पैर पकड़ लिए और कहा कि आपके बेटे की शहादत बेकार नहीं जाएगी। मोदी सरकार बदला जरूर लेगी। आपका एक बेटा देश के लिए शहीद हो गया है,लेकिन दूसरा अभी (सतीश महाना) जिंदा है। रात 12 बजे बुलाएंगी हम दौड़े चले आएंगे। मंत्री की बात सुनकर मां की आंखों में आंसू आ गए और उन्होंने चेक ले लिया।

शहीद की मां ने खुद आतंकियो पर बम फेंकने की भरी थी हुंकार
गौरतलब है कि जब कैप्टन आयुश की शहादत की खबर कानपुर पंहुची थी, तब भी उनकी मां ने खुद आतंकियो के कैम्प में बम फेंकने के लिए हुंकार भरी थी। किसी का भी कलेजा फाड़ देने वाली इस मां की मार्मिक अपील पर पूरा देश हिल गया था। आज एक बर फिर पैसों की जगह प्रतिशोध की मांग की थी।

-----
लिंक शेयर करें