Breaking News

भारत ने अपने सात पड़ोसी देशों के लिए छोड़ा उपग्रह, पाकिस्‍तान शामिल नहीं

श्रीहरिकोटा: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो)ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से अपने भारी रॉकेट भूस्थैतिक उपग्रह प्रक्षेपण यान जीएसएलवी-एफ09 के माध्यम से दक्षिण एशियाई संचार उपग्रह जीसैट-9 का आज यहां सफल प्रक्षेपण किया।

7 देशाें को होगा फायदा, पाकिस्तान बाहर
जीसैट-9 को मोदी सरकार द्वारा सार्क देशों को 235 करोड़ का आसमानी तोहफे के रुप में देखा जा रहा है। इसरो ने बताया कि दक्षिण एशियाई संचार उपग्रह जीसैट-9 पाकिस्तान को छोड़कर भारत के अन्य पड़ोसी देशों नेपाल, भूटान, मालदीव, बंगलादेश, श्रीलंका और अफगानिस्तान को अपनी सेवाएं देगा। अधिकारी ने बताया कि 2230 किलोग्राम के इस उपग्रह की सेवाएं अन्य देश भी ले सकेंगे। उपग्रह जीसैट-9 को चार बजकर 57 मिनट पर प्रक्षेपित किया गया। यह उपग्रह 12 वर्षों तक अपनी सेवाएं दे सकेगा। पचास मीटर ऊंचे इस रॉकेट के प्रक्षेपण में क्रॉयोजेनिक इंजन के उन्नत संस्करण का उपयोग किया जाएगा।

उपग्रह प्रक्षेपण पर दक्षेस देशों ने जताया भारत का आभार 
भारत का आभार जताते हुए कहा कि यह क्षेत्र में मैत्री और सहयोग बढ़ाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है और इससे समृद्धि और विकास के नये रास्ते खुलेंगे। उपग्रह के सफल प्रक्षेपण के बाद अफगानिस्तान, बंगलादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका और मालदीव के शासनाध्यक्षों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में इसके लिए भारत सरकार और श्री मोदी का आभार जताया तथा भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिकों को बधाई दी।

PM मोदी ने दी बधाई
उपग्रह के प्रक्षेपण के तत्काल बाद प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘दक्षिण एशिया उपग्रह का सफल प्रक्षेपण एेतिहासिक क्षण है। इनसे संपर्को के नए आयाम खोल दिए हैं। मैं वैज्ञानिकों की टीम को बधाई देता हूं जिनके कठिन परिश्रम से दक्षिण एशियाई उपग्रह सफलतापूर्वक प्रक्षेपित हो सका। हमें उन पर गर्व है।’’ साल 2014 में प्रधानमंत्री बनने के तत्काल बाद मोदी ने प्रस्ताव किया था कि भारत एेसा उपग्रह प्रक्षेपित करेगा जिसका आंकड़ा आठ दक्षेस देशों के साथ साझा किया जाएगा जो उनके विकास में मदद करेगा।

इसरो को मिली ढेरों बधाई 
राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, उप राष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) को दक्षिण एशिया में क्षेत्रीय संचार संपर्क मजबूत करने वाले उपग्रह जीसैट -09 को सफलता पूर्वक प्रक्षेपित करने के लिए बधाई दी है।

-----
लिंक शेयर करें