Breaking News

ब्रेकिंग : खलीलाबाद – मेंहदावल मार्ग पर स्‍कार्पियो की ठोकर से चाची और भतीजे ने तोड़ा दम

– बहराइच के गाजी मिया मेले में जा रही महिला को जा रहा था छोड़ने

– दोनों की मौत से अनई गांव में मातम का माहौल, लोगों में है शोक

 बघौली, संतकबीरनगर। केबीएन न्‍यूज
 कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र में खलीलाबाद – मेंहदावल मार्ग पर स्थित जंगलकला गांव के सामने एक स्‍कार्पियों की ठोकर से एक महिला की मौत हो गई।  प‍ुलिस ने दोनों शवों को अपने कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है।

रोते बिलखते हुए प्रवीण और कबूतरा देवी के परिजन

कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र के अनई गांव की निवासी 45 वर्षीया कबूतरा देवी अपने शाम 6 बजे करीब अपने घर से बहराइच में गाजी मिया के मेले में शामिल होने  के लिए खलीलाबाद गाड़ी पकड़ने के लिए जा रही थी। उनका 25 वर्षीय भतीजा प्रवीण उनको मोटरसाइकिल से छोड़ने के लिए जा रहा था। अभी उनकी मोटरसाइकिल कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र के खलीलाबाद – मेंहदावल मार्ग पर स्थित जंगल कला, कस्‍तूरबा गांधी आवासीय बालिका स्‍कूल के पास पहुंची ही थी कि विपरीत दिशा से आ रही एक अज्ञात स्‍कार्पियों ने उन्‍हें ठोकर मार दी। नतीजा यह हुआ कि दोनों वहां पर गिरकर तड़पने लगे। स्‍थानीय लोगों ने उन्‍हें उठाकर जिला अस्‍पताल पहुंचाया । जहां चिकित्‍सकों ने चाची कबूतरा देवी को मृत घोषित कर दिया। जबकि इलाज के दौरान प्रवीण की भी मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को अपने कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया।

प्रवीण के दो  बच्‍चे और पत्‍नी हो गई अनाथ

इस घटना में मृत प्रवीण के दो बच्‍चे हैं। इन दोनों बच्‍चों की जिम्‍मेदारी अब उनके परिवार के लोगों पर आ गई है। वहीं प्रवीण की पत्‍नी मीना देवी का रोते रोते बुरा हाल है। मीना के सामने इतनी लम्‍बी जिन्‍दगी पड़ी है। वह अब सोच रही है कि आखिर वह इतना बड़ा जीवन आखिर किसके सहारे काटेगी।

-----
लिंक शेयर करें