Breaking News

कथित सपा एमएलसी व आजमगढ़ का नटवरलाल 8 करोड़ की ठगी में मुम्‍बई में गिरफ्तार

– मुख्‍यमन्‍त्री कोटे से लोगों को घर दिलाने के नाम पर की थी ठगी

– आजमगढ़ के आमगांव का निवासी है कुख्‍यात ठग मनोज सिंह ठाकुर

आजमगढ, भूपेन्‍द्र श्रीवास्‍तव ।

मुम्‍बई में मुख्‍यमन्‍त्री कोटे से लोगों को घर दिलाने के नाम पर 8 करोड़ रुपए की ठगी करने वाले कुख्‍यात ठग मनोज सिंह ठाकुर को मुम्‍बई पुलिस की आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा ने धर दबोचा है। उससे पूछताछ की जा रही है। मुम्‍बई पुलिस के द्वारा पकड़ा गया यह कुख्‍यात ठग आजमगढ़ जनपद के दीदारगंज थानाक्षेत्र के आमगांव का मूल निवासी बताया जाता है।

कुख्‍यात ठग ठाकुर मनोज सिंह

जिले के कुख्‍यात ठग मनोज सिंह ठाकुर ने मुम्‍बई के मीरा भाइन्‍दर इलाके मे रहते हुए खुद को उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी का एमएलसी बताया। उसके नाम पर उसने कांदीवाली इलाके के रहने वाले बोहरा परिवार समेत 5 लोगों से करोड़ों की ठगी की। उसने उन लोगों को आश्‍वासन दिलाया कि वह मुख्‍यमन्‍त्री कोटे से लोगों को घर दिलाएगा। जिसके एवज में लोगों ने उसे करोड़ों रुपए दिए। यह रकम कुल मिलाकर 8 करोड़ रुपए बताई जाती है। पुलिस ने इस मामले में उसे जेल भेज दिया है। जबकि उसकी जमानत याचिका को हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है।

खुद को सपा का एमएलसी बताकर की थी ठगी

ठगी के शिकार लोगों ने मुकामी पुलिस को बताया है कि मनोज सिंह ठाकुर जो मीरा भाइन्‍दर इलाके में रहता है वह बताता था कि समाजवादी पार्टी से उत्‍तर प्रदेश से एमएलसी है। इसके साथ ही वह प्रापर्टी डीलिंग का भी काम करता है। मुम्‍बई में उसने कई लोगों को मुख्‍यमन्‍त्री योजना के तहत फ्लैट दिलाने के नाम पर ठगने का काम किया। एक एक व्‍यक्ति से उसने 1 करोड़ से लेकर 3 करोड़ तक रुपए लिए हैं। उसने लोगों को भ्रमित करने के लिए तमाम जाल फैला रखा था। जिसके चलते वे लोग उसके शिकंजे में फंसते चले गए।

 

पूर्व मुख्‍यमन्‍त्री अखिलेश यादव के साथ अपनी फोटो को दिखाकर लोगों से ठगी करता था यह कुख्‍यात ठग। काले घेरे में उसके चेहरे को स्‍पष्‍ट देखा जा सकता है

हाईकोर्ट ने की कुख्‍यात ठग की जमानत नामंजूर

कुख्‍यात ठग मनोज सिंह ठाकुर ने अपनी जमानत के लिए मुम्‍बई हाईकोर्ट में भी याचिका दायर की। लेकिन इस ठग की जमानत मुम्‍बई की हाईकोर्ट ने नामंजूर कर दी है। उसने लोगों को भरोसा जीतने के लिए पूर्व मुख्‍यमन्‍त्री पृथ्‍वीराज चाह्वाण के फर्जी हस्‍ताक्षर करके लेटर हेड और स्‍टैम्‍प पेपर का भी इस्‍तेमाल किया है। उसके खिलाफ कांदीवली इलाके के रहने वाले बोहरा समेत 5 लोगों ने शिकायत की थी जिसके आधार पर आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा ने उसको दबोचा था।

 

क्‍या कहती है मुम्‍बई पुलिस

मुम्‍बई पुलिस की आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा के डीसीपी पराग मनेरे से जब इस सम्‍बन्‍ध में बात की गई तो उन्‍होने बताया कि उक्‍त कुख्‍यात ठग ने मुम्‍बई में करोड़ों की ठगी की है। उसके खिलाफ 5 लोगों ने ठगी की जानकारी दी है। अभी और भी लोगों को उसने ठगा है जो धीरे धीरे सामने आ रहे हैं। पुलिस उसके खिलाफ कार्रवाई कर रही है। उसको किसी भी कीमत पर बख्‍शा नहीं जाएगा। उसके सम्‍बन्धियों और सहयोगियों की भी तलाश की जा रही है। शीघ्र ही वे भी पुलिस के शिकंजे में होंगे।

-----
लिंक शेयर करें