Breaking News

नहीं बन्‍द रहेंगे 12 जुलाई को पेट्रोल पम्‍प, ट्रेडर्स ने हड़ताल स्‍थगित की

  • नहीं बन्‍द रहेंगे 12 जुलाई को जिले के पेट्रोल पम्‍प
  • विभिन्‍न मुद्दों को लेकर आयोजित की गई थी हड़ताल

संतकबीरनगर। न्‍यूज केबीएन

पेट्रोलियम डीलर्स ट्रेड एसोसिएशन ने आगामी 12 जुलाई को आयोजित की गई अपनी हड़ताल को स्‍थगित कर दी है। एसोसिएशन के अध्‍यक्ष रामकुमार सिंह ने यह जानकारी दी है। यह हड़ताल आल इण्डिया ट्रेडर्स एसोसिएशन के निर्देश पर स्‍थगित की गई है।

रामकुमार सिंह, अध्‍यक्ष

गत दिनों ट्रेड एसोसिएशन संतकबीर नगर की प्रथम बैठक एसोसिएशन के अध्यक्ष रामकुमार सिंह की अध्यक्षता में बाबा तामेश्वर नाथ फिलिंग सेन्टर देवरिया गंगा पर होनी थी, परन्तु बरसात को देखते हुए मीटिंग हीरालाल रामनिवास इण्टर कालेज पर सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में संतकबीरनगर के सभी कम्पनियों के पेट्रोल पम्प, गैस, केरोसीन के डीलर बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिए और आज के ज्वलन्त मुद्दे डिपो से कम तेल दिए जाने और टैंकर से ट्रांसपोर्टरों द्वारा चोरी मुख्य मुद्दा रहा, जनपद में कई टैंकरों के चोरी का खुलासा होने के बावजूद तथा गोंडा इंडियन ऑयल डिपो के ठीक सामने  टैंकरों से हो रही चोरी को TV न्यूज पर  मुख्य रूप से दिखाए जाने के बाद भी इंडियन ऑयल के डिपो मैनेजर तथा DRSM गोरखपुर द्वारा कोई कार्यवाई न होने से लोगों में आक्रोश व्‍याप्‍त था।

इस सम्बन्ध में एसोसिएशन के संरक्षक रामगोपाल रूंगटा तथा सत्यपाल पाल ने कहा कि हम सब इसके लिए ई.डी. महोदय से समय लेकर चर्चा करेंगे और यदि सकारात्मक हल नहीं निकला तो हम सब सार्वजनिक रूप से तब तक हड़ताल करेंगे जब तक हमारी माँग पर सकारात्मक विचार नहीं किया जायेगा।

उक्त अवसर पर मुख्यरूप से श्री अष्टभुजा शुक्ला पूर्व सांसद, श्रीराम चौहान विधायक धनघटा पूर्व अध्‍यक्ष श्री रामगोपाल रूंगटा, श्री अमर नाथ रूंगटा, श्री सत्यपाल पाल, विजयरूंगटा जय कृष्ण गुप्ता,  हेमंत गुप्ता, ऊषा देवी, महेंद्र सिंह,  शम्भू पाल,  तारबाबू, रूद्र प्रताप, राजकुमार,  प्रवीन चन्द पाण्डेय, गुलरेज अहमद,  मनोज कुमार,  एस. के. अग्रहरी,  दिनेश बहादुर सिंह,  अवनीश गुप्ता, चंद्रशेखर सिंह,  फ़िरोज़ अहमद,  महेश पाण्डेय, सुधांशु कुमार,  हरिशंकर शुक्ला, रणबहादुर सिंह, शैलेश उपाध्याय, नितीश कुमार सिंह, विनय प्रताप सिंह, हरीश गुप्ता, चंद्रशेखर सिंह, आर.पी. सिंह, श्रीमती सीमा सिंह सहित सैकड़ों लोग मीटिंग में भाग लिए और अपने अपने विचार रक्खे।

 

यह थीं एसोसिएशन की प्रमुख मांगें

1- अपने पम्प से ग्राहक को 5 लीटर तेल देते हैं, परन्तु हमे डीपो से जो सप्लाई मिल रही है वो बारह हजार लीटर के बदले ग्यारह हजार नौ सो लीटर ही तेल मिल रहा है ऊपर से ट्रांसपोर्टरों की गाड़ियाँ अलग से चोरी कर रही हैं। वह रोका जाये और चोरी में जो गाड़ी या ट्रांसपोर्टर पकड़ा जाये उस पर डिपो मैनेजर स्वयं एफ.आई.आर. दर्ज कराये न की उसके लिए डीलर परेशान हो।

2- रोज रेट घटने-बढ़ने से डीलर को हिसाब मेंटेन करने में परेशानी हो रही है उस पर विचार किया जाये।

3- डीलर कमीशन बढ़ाया जाये।

4- अधिकारियों के तानाशाही पर प्रतिबन्ध लगाया जाये।

 

आल इण्डिया पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन ने यह भेजा पत्र

Dear Friends,
We AIPDA Executive Commitee members have been in continuous touch regarding the strategy and implementation of No purchase No Sale agitation on 12th july.
All agreed that the agitation can only be impactful if all states go on agitation together.
In the meantime Hon’ble Minister has assured the dealers fraternity to watch for a month and if there is any problem, he will personally intervene and help us. Some of the states have also expressed inability and reservation to go on “No Purchase No Sale” on 12th july due to various reasons including the Appeal by Hon’ble Minister,Festive season, Dealer unpreparedness etc.
Company officials also have assured handsome Increase in dealer commission, review of demand for compensation of dealer losses after 15th Aug if required and address our concerns. Since the sentiments of majority states was against The agitation of 12th july it was unanimously decided that we should wait till 1st Aug 2017 for announcement of increased commission and the agitation should be  deferred till 20th of August.
Regards
Sanjay lath
Secretary General, AIPDA.

 

-----
लिंक शेयर करें