Breaking News

श्रावण मास के तीसरे दिन शिवालयों में उमड़ा आस्‍था का सैलाब, तामेश्‍वरनाथ में भारी भीड़

– विभिन्‍न मन्दिरों में जाकर लोगों ने की पूजा अर्चना, शिव को चढ़ाया जल

– भारी संख्‍या में उमड़े भक्‍तों ने बोल बम के नारों के बीच उठाई कांवड़

संतकबीरनगर। न्‍यूज केबीएन
श्रावण मास के तीसरे सोमवार को आस्था के सैलाब में श्रद्धालुओं ने खूब गोता लगाया। हर-हर बम-बम , ओम नम: शिवाय के जयकारे के साथ श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक किया। घण्ट-घड़ियाल और जयकारे से शिवालय गूंजते रहे। जिले के सबसे प्रमुख शिवमंदिर तामेश्वरनाथ धाम में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी।

पहले और दूसरे सोमवार की तुलना में तीसरे सोमवार श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा। महाभारत कालीन मंदिर तामेश्वरनाथ में शनिवार की रात से श्रद्धालु कतार में लगने लगे। रात बारह बजे के बाद बढ़ती भीड़ देख महाभारत कालीन मंदिर तामेश्वरनाथ मंदिर का कपाट खोल दिया गया। देखते ही देखते लगभग आधा किमी की कतार लग गई। प्रशासनिक तौर से चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था के बीच कांवरियों ने जलाभिषेक किया और यह क्रम लगातार दिन में दोपहर तक चलता रहा। लाखो लोगों ने इस मंदिर पर जलाभिषेक कर हर-हर बम-बम के जयकार से माहौल को भक्तिमय और शिवमय बना दिया। तामेश्वरनाथ के अलावा बिड़हरघाट, कंकड़ेश्वरनाथ, बाबा कुबेरधाम, हैहेश्वरनाथ, कोपेश्वरनाथ, भंगेश्वरनाथ बखिरा, क्षीरेश्वरनाथ, मुड़ियारी, सिद्धेश्वरनाथ, जसोश्वरनाथ, नाथनगर, महुली, हरिहरपुर, कालीजदीशपुर, मोलनापुर, मुखलिसपुर स्थित शिव मंदिरों पर भी श्रद्धालुओं ने भोर से ही जलाभिषेक किया।

चौतरफा सुरक्षा व्यवस्था में चौकसी बरते पुलिसकर्मी

महाभारत कालीन मंदिर तामेश्वरनाथ धाम में तीसरे सोमवार को अप्रत्याशित भीड़ उमड़ी। पिछले दो सोमवार केवल परिसर के गोल चक्कर से ही कतार लगायी गयी लेकिन इस सोमवार को शिवरात्रि या अन्य पर्वो के तहत समूचे पोखरे के गोल चक्कर से होकर लोगो को गुजरना पड़ा। मौसम का मिजाज हालांकि सुबह से ही थोड़ा कड़क था बावजूद इसके लोगो ने अपनी आस्था के साथ घण्टो इस कतार में खड़े होकर भी जलाभिषेक किया। जलाभिषेक के दौरान व्यवस्था देने में जुटे पुलिस बल के जवानो ने प्रत्येक व्यक्ति पर निगरानी की। इस दौरान करीब तीन चार महिलाओं की घड़ी व कुछ अन्य सामान भी मिले जिसे पुलिस के जवानो ने सूचना प्रसारित कर उन्हें वापस किया।

महिला पुलिस की मशक्कत से मिली सफलता

भगवान भोलेनाथ के दर्शन और पूजन को उमड़ी महिलाओं की भारी भीड़ को सम्भालने में महिला पुलिस टीम पूरी सजगता से मुस्तैद रही। महिला थानाध्यक्ष अनीत यादव ने अपने हमराही सिपाहियों के साथ महिलाओं के कतार को सम्भालती रहीं। सुबह करीब सात बजे के बाद से इन महिलाओं के जत्थे पहुंचने शुरु हुये जो लगातार एक बजे तक क्रम ही नही टूटा। पुरुषो की टोली पर भारी पड़ी महिलाओं की टीम को कतारबद्ध कर एक बार में कम से कम दो सौ से अधिक को छोड़ा जाता और हर महिला भगवान भोलेनाथ को पूजने को आतुर दिखी।

-----
लिंक शेयर करें