Breaking News

अबू दुजाना के मारे जाने पर काश्‍मीरी छात्राओं ने किया क्‍लास का बहिष्‍कार, प्रदर्शन किया

जम्मू-कश्मीर – आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन ऑलआउट में सुरक्षाबलों ने मंगलवार को घाटी में आतंक का दुसरा नाम बन चुके लश्कर कमांडर अबु दुजाना को पुलवामा के हाकरीपोरा गांव में मार गिराया गया। सुरक्षा बलों के मुताबिक दुजाना कश्मीर में जमकर अय्याशी करता था। वह जब चाहे किसी भी कश्मीरी के घर में घुस जाता और घिनौनी हरकत करता।

दुजाना के मारे जाने पर कश्मीरी छात्राओं ने किया प्रोटेस्ट

लश्कर कमाडंर अबु दुजाना के मारे जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी फिर से शुरू हो गई है। इस बार लड़कियों ने भी कई जगह हाथों में पत्थर लेकर प्रदर्शन किया। ये सब दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज की छात्राओं ने किया। इन लड़कियों ने अबु दुजना के समर्थन में नारेबाजी कर क्लास का बहिष्कार किया। खबर है कि इन लड़कियों ने हाथों में पत्थर लेकर विरोध प्रदर्शन भी किया।

सुरक्षाबलों ने अय्याश दुजाना को ऐसे पहुंचाया 72 हूरों के पास

लश्‍कर आतंकी अबु दुजाना उस वक्त मारा गया जब वो अपनी पत्‍नी से मिलने जा रहा था। दुजना कश्मीर में आतंकी होने के साथ-साथ अय्याशी के लिए भी कुख्‍यात था। दुजाना का जन्म पाकिस्तान में हुआ था। पुलिस उसे काफी समय से ट्रैक कर रही थी। पुलिस उसके घर पर नजर रखें हुए थी और सुरक्षा बल वहां करीब 2 घंटे से चुपचाप उसका इंतजार कर रहे थे। सुरक्षा बलों के मुताबिक, दुजाना ने कोई बड़ी आतंकी घटना को अंजाम नहीं दिया था, वो यहां बस अय्याशी कर रहा था।

ये है एनकाउंटर की पूरी कहानी

सुरक्षाबलों को मंगलवार सुबह 4 से 5 बजे के करीब कश्मीर के पुलवामा जिले के हाकरीपोरा गांव में दुजाना के छिपे होने की खबर मिली। जिसके बाद सेना ने हाकरीपोरा गांव को पूरी तरह से घेर लिया और उसके बाद मुठभेड़ शुरू हुई। गौरतबल है कि दुजाना जिस घर में छिपा हुआ था, वहां से करीब 4 घंटों तक एक भी गोली नहीं चली। जिसका मतलब है कि वह काफी डरा हुआ था। अबु दुजाना के अलावा इस एनकाउंटर में उसका साथी आरिफ ललहारी भी मारा गया।

-----
लिंक शेयर करें