Breaking News

उत्‍तर प्रदेश के इस जिले में 9 अगस्‍त से शुरु होगी प्रभु की रसोई

सहारनपुर: भूख और गरीबी के खिलाफ बड़ी लड़ाई के तहत सहारनपुर में 9 अगस्त से प्रभु की रसोई की शुरूआत होगी जिसमें रोजाना करीब 300 गरीब लोगों को दोपहर का भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने बताया कि सहारनपुर में यह योजना प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार की गरीबी और भूख को समाप्त करने की कोशिशों के तहत शुरू की जा रही है। शुरू में लोगों को दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक दाल, चावल,सब्जी दी जाएगी। बाद में रोटी भी परोसी जाएगी। इसके लिए रोटी बनाने की मशीनों को मंगाया जा रहा हैं।

अग्रवाल ने योजना को शुरू करने के लिए सहारनपुर से प्रमुख समाजसेवियों और उद्यमियों एवं कारोबारियों की बैठक ली जिसमें लोगों ने उन्हें पूरा सहयोग देने का भरोसा दिया। इस योजना के संचालन के लिए एक कमेटी गठित की गई है। जिसके संरक्षक कमिश्नर और अध्यक्ष जिलाधिकारी होंगे। सहारनपुर के जनमंच स्थित रोटरी भवन को इस कार्य के लिए चयनित किया गया है। अग्रवाल के मुताबिक गरीबों को सम्मान के साथ पोष्टिक भोजन देने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि कांवड यात्रा के दौरान अनेक सामाजिक संगठनों ने कांवड़ियों को भोजन उपलब्ध कराया था। उसी भावना के अनुरूप प्रभु रसोई की शुरूआत की गई है।

गौरतलब है कि तमिलनाडु में ‘अम्मा कैंटीन’ के रूप में गरीबों को बेहद सस्ते दाम पर भोजन उपलबध कराया जाता है। ठीक उसी तर्ज पर उत्तर प्रदेश में प्रभु की रसोई नाम से यह योजना शुरू की जा रही है। उत्तर प्रदेश सरकार ने 500 करोड रूपए से अधिक की नेटवर्थ और 1000 करोड़ से अधिक के टर्नओवर वाली सभी कंपनियों को अपनी आय का 2 प्रतिशत साक्षरता दर बढ़ाने, युवाओं को कौशल सिखाने पर खर्च करने के लिए कहा गया था। सहारनपुर इस योजना को शुरू करने वाला प्रदेश का पहला जिला होगा। लोगों में खासकर गरीब वर्ग में इस महत्वाकांक्षी योजना को लेकर बेहद उत्सुकता दिख रही है।

-----
लिंक शेयर करें