Breaking News

पुलिस की सराहनीय कार्य : मासूम बच्चे के साथ ट्रेन के सामने कूदकर जान देने जा महिला को गोला चौकी इंचार्ज प्रतिभा सिंह ने बचाई जान(रिपोर्ट- देवीलाल गुप्त)

सराहनीय प्रयासों की सराहना करना अपने मन को तो सुकून देता ही है, अन्य लोगों को भी इससे सराहनीय प्रयास करने की प्रेरणा मिलती है. आइए आज आपको बताते है कुछ इसी तरह की सराहनीय कार्य करने वाली सुपर लेडी सिंघम कही जाने वाली ऐसी महिला व तेज तर्रार गोला चौकी इंचार्ज प्रतिभा सिंह की पहल की बात।

न्यूज़ केबीएन, संतकबीरनगर : हमेशा अपने नेक कार्यो से चर्चा में रहने वाली ऐसी तेज तर्रार महिला इंचार्ज प्रतिभा सिंह ने एक महिला की जान बचाकर किया एक और सराहनीय कार्य। जिसकी चर्चा जोरों पर है, महिला और मासूम बच्चे की जान बचाकर किया सराहनीय कार्य। कोतवाली ख़लीलाबाद के मुखलिसपुर रेलवे फाटक के पास अपने मासूम बच्चे के साथ महुली थाना क्षेत्र की गिठिनी निवासी माधुरी पत्नी संदीप चौहान रेलवे लाइन पर ट्रेन के आगे कूदकर जान देने के लिए खड़ी हो गई। लेकिन ट्रेन आने से पहले तत्काल सूचना पाकर मौके पर पंहुची गोला चौकी की तेज तर्रार महिला इंचार्ज प्रतिभा सिंह बचाई जान। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक महिला चिल्ला रही थी कि उसने गाड़ी के नीचे आकर जान देनी है और उसको रोका न जाए। जब महिला रेलवे लाइन से दूर नहीं हुई तो लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी तो मौके पर पहुंची गोला चौकी प्रभारी प्रतिभा सिंह ने महिला को ऐसा न करने के लिए समझाया बुझाकर उसे वापस किया। उन्होंने बताया कि महिला ने बताया कि पारिवारिक कलह से बहुत परेशान रहती थी जिसके कारण वह ऐसा कदम उठाई इस कारण वह बहुत दुखी होकर मरने जा रही थी। गोला चौकी इंचार्ज प्रतिभा सिंह ने समझाया अौर पति व घरवालों को बुलाकर महिला और बच्चों को सुपुर्द कर दिया। महिला के  पति ने इंचार्ज प्रतिभा सिंह का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद भी दिया। महिला के पति संदीप ने कहा कि अगर समय से गोला चौकी प्रभारी प्रतिभा मैम नही पंहुचती तो आज मेरी पत्नी और बच्चे शायद मेरे पास नही होते।  

-----
लिंक शेयर करें