Breaking News

मिउरा गांव में उर्स के नाम पर मेला लगाने की साज़िश का विरोध कर रहे ग्रामीण

मिउरा गांव में उर्स के नाम पर मेला लगाने की साज़िश का विरोध कर रहे ग्रामीण

न्यूज़ केबीएन, संतकबीरनगर : ख़लीलाबाद ब्लॉक के ग्राम मिऊरा पोस्ट सिकरी में कुछ लोग जनता गांव वाले व आमलोगों को गुमराह करके धर्म के नाम पर मजार बनाने के फिराक में लगे हैं, जबकि गांव वाले इस ढोगंबाजी के खिलाफ है। सोहराब अली ने बताया कि गांव के ही इसरार अहमद वारसी ने अपने पिता सुलेमान की मृत्यु के बाद अपने घर के अंदर दफन करके उसको मज़ार बना कर उर्स का मेला लगाना चाहते हैं जो सरासर गलत है। यह धर्म का उलंघन करके लोगों को गुमराह करके मेला लगाने की साजिश है। इस विषय मे प्रशासन को भी अवगत करा दिया गया है। अली हुसैन ने बताया कि यहां पर धर्म के नाम पर लोग उर्स करने के लिए शासन से परमीशन लेने के लिए आवेदन भी किया था, लेकिन जब यह जानकारी गांव वालों को हुई तो लोग बिरोध किए जिससे परमीशन नहीं मिला। उन्होंने कहा कि प्रसाशन भी मना कर दिया की ऐसा कोई नया काम करने की इज़ाज़त नही दी जायेगी जिससे शांति भंग की आशंका है। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद गांव के कुछ लोगों द्वारा द पेपर में गलत तरीके से एक ख़बर प्रकाशित करवा दिया गया कि बाबा बकार शाह वारसी के स्थान पर धूमधाम से उर्स का मेला मनाया गया और मेला लगा चादर चढाई गई जबकि ऐसा कोई कार्यक्रम नही हुआ है और नाही कोई परमिशन है। इस मौके पर सुड्डू ,मैनुद्दीन,गनी मो०,कमरुद्दीन , मोहम्मद रफीक, गफ्फार अली, नुरुल इस्लाम, मोहम्मद इसहाक, मोहम्मद यासीन, अली हुसेन, जमीर अहमद, मुहम्मद रईस, सोहराब अली, हयातुम, इस्तेखार, मोहम्मद अकील, शौकत अली,मोहम्मद मुवीन,आदि लोग इसका विरोध कर रहे है।

-----
लिंक शेयर करें