Breaking News

बजट में रेल यात्रियों को क्‍या मिले तोहफे

नई दिल्लीः वित्त मंत्री अरुण जेटली आज संसद में बजट पेश करते हुए यात्रियों के लिए बड़ी घोषणा की है। आईआरसीटीसी से ई-टिकट पर कोई सर्विस चार्ज नहीं लगेगा। इस तरह ऑनलाइन टिकट बुकिंग करने पर कोई सर्विस चार्ज नहीं लगेंगा। इसी के साथ रेलवे को लेकर और भी कई बड़ी घोषणांए की गई है।

-रेल सुरक्षा के लिए 1 लाख करोड़ का फंड आवंटित किया गया है।
-500 स्टेशन अपाहिजों की सुविधा के मुताबिक होंगे।
-इस बार बजट में 7 हजार रेलवे स्टेशन सोलर ऊर्जा से लैस होंगे।
-500 किलोमीटर नई रेल लाइन बनेगी।
-2020 तक मानव रहित क्रॉसिंग खत्म होंगी।
-पर्यटन और तीर्थ के लिए स्पेशल ट्रेनें शुरु की जाएंगी।
-रेल में यात्रियों की सुरक्षा सरकार की प्राथमिकता होगी।
-रेलवे के लिए 1,31,000 करोड़ रुपए की कुल पूंजी और विकास संबंधी व्यय।
-SMS से क्लीन माय कोच सर्विस की सुविधा।
-स्टेशनों पर लिफ्ट और एस्केलेटर्स लगाए जाएंगे, 300 स्टेशन से शुरुआत।
-साल 2019 तक सभी रेल कोचों में बायो टॉयलट।
-कृषि प्रॉडक्ट्स ढुलाई के लिए विशेष व्यवस्था।
-कैशलेस रिजर्वेशन 58% से बढ़कर 68% हो गया है।
-तटीय इलाकों में 2 हजार किमी सड़क की पहचान की जाएगी।
-रेल कंपनियों को शेयर बाजार में लिस्ट किया जाएगा, IRCTC भी लिस्ट होगी।

आम बजट के साथ रेल बजट 
यह पहली बार है जब रेल बजट को आम बजट के साथ ही पेश किया जा रहा है। इससे पहले रेल बजट को आम बजट से एक दिन पहले पेश किया जाता रहा है। सरकार पहली बार बजट के एक महीना पहले पेश कर रही है। पहले बजट 28 फरवरी को पेश किया जाता रहा है लेकिन सरकार अब की बार 1 फरवरी को पेश किया है। सरकार का तर्क है इससे बजट के प्रावधानों को लागू करने के लिए वक्त मिलेगा।

-----
लिंक शेयर करें