Breaking News

हर गर्भवती व हर बच्‍ची को, घर पर मिला पुष्‍टाहार  ( देवीलाल गुप्‍त की रिपोर्ट )

–    जिले में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हर जगह वितरित कर रही हैं पुष्‍टाहार

–    हर लाभार्थी तक पुष्‍टाहार पहुंचाने के लिए लगी हैं आंगनबाडी कार्यकर्ता

संतकबीरनगर, 7 मई 2020

लॉकडाउन के दौरान गर्भवती, बच्चों तथा किशोरियों के स्‍वास्‍थ्‍य पर सरकार की पूरी नजर है। लॉकडाउन को ध्‍यान में रखते हुए जिले की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर पुष्‍टाहार का वितरण किया जा रहा है। हर लाभार्थी और जरुरतमंद तक पुष्‍टाहार पहुंचाने के लिए आवश्‍यक इन्‍तजाम किए गए हैं। अन्तिम दौर में दुरुह स्थितियों के बावजूद आंगनबाड़ी कार्यकर्ता जरुरतमंदों तक पुष्‍टाहार का वितरण सोशल डि‍स्‍टेंसिंग को ध्‍यान में रखते हुए कर रही हैं।

जिला कार्यक्रम अधिकारी सुश्री विजयश्री ने बताया कि हर गर्भवती, बच्‍चे तथा स्कूल न जाने वाली किशोरियों तक पुष्‍टाहार पहुंचाने के शासन के आवश्‍यक दिशा निर्देशों का पालन करते हुए जिले के 1765 आंगनबाड़ी केन्‍द्रों तक पुष्‍टाहार पहुंचाने का काम अभियान के रुप में शुरु किया गया। लॉक डाउन के दौरान यह एक काफी चुनौतीपूर्ण कार्य था। लेकिन जिले के नौ ब्‍लाकों की सीडीपीओ, प्रभारी सीडीपीओ, सुपरवाइजर्स तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सुपरवाइजर्स की मेहनत का ही परिणाम रहा कि आज पूरे जनपद में पुष्‍टाहार का सुचारु रुप से वितरण कर दिया गया है। सुदूर क्षेत्रों में भी पुष्‍टाहार पहुंचा दिया गया है। इस कार्य में स्‍थानीय जनप्रतिनिधियों का भी बेहतर सहयोग मिला है।

इम्‍यूनिटी बूस्‍टर है पुष्‍टाहार

पोषण विशेषज्ञ बताते हैं कि बच्‍चों, बालिकाओं व गर्भवती महिलाओं को दिया जाने वाला पुष्‍टाहार न सिर्फ पोषण में अपनी भूमिका का निर्वहन करता है। बल्कि उनके लिए यह इम्‍यूनिटी बूस्‍टर की तरह से है। इससे बच्‍चों तथा गर्भवती महिलाओ की इम्‍यूनिटी भी बेहतर होगी। इसलिए पुष्‍टाहार बहुत ही जरुरी है।

गर्भवती व धात्री को विशेष जरुरत

पोषण विशेषज्ञ का कहना है कि गर्भवती व धात्री महिलाओं के लिए इस तरह के आहार की विशेष जरुरत होती है। क्‍योंकि पोषण के साथ ही उनकी इम्‍यूनिटी पावर भी मेण्‍टेन करना होता है। इम्‍यूनिटी पावर को मेण्‍टेन करने के लिए विशेष रुप से तैयार किए गए पुष्‍टाहारों का वितरण महिलाओं के बीच में किया गया।

-----
लिंक शेयर करें