Breaking News

महदेवा के केशव व सरोज की डूबती नाव का सहारा बने डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ( देवीलाल गुप्‍त की रिपोर्ट )

  • दीवार गिरने से मृत मां के क्रिया कर्म के लिए दिए 15 हजार रुपए
  • प्रधान मनोज कुमार को दिया पक्‍का मकान बनवाने का निर्देश

संतकबीरनगर, न्‍यूज केबीएन।

जिले में समाजसेवा की नई इबारत लिखने वाले सूर्या इण्‍टरनेशनल सीनियर सेकेण्‍डरी एकेडमी के निदेशक डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी नाथनगर क्षेत्र के महदेवा गांव के निवासी केशव राम और रामसरोज की डूबती नाव का सहारा साबित हुए हैं। उन्‍होने न सिर्फ उनको सम्‍बल प्रदान किया बल्कि आर्थिक सहायता देकर उनका मनोबल बढ़ाया ।

महदेवा गांव के केशवराम व रामसरोज को मां के क्रिया कर्म के लिए धन देते हुए डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी

महदेवा गांव के रोज कुआं खोदकर रोज पानी पीने वाले केशवराम तथा रामसरोज को कोरोना काल में एक और आफत का सामना करना पड़ रहा है। घर की दीवार गिरने से एक दिन पहले मिट्टी की दीवार में दबकर उनकी मां उनकी मां लालमती देवी की मौत हो गई। मौत के बाद परिजनों के उपर आफत आ गई। किसी तरह से कल उसका दाह संस्‍कार किया। इसके बाद उसके क्रिया कर्म के लिए संकट खड़ा हो गया। मौके पर दाह संस्‍कार के लिए गए लोग उनकी मुफलिसी को लेकर तरह तरह की बातें करने लगे। इस बात की जानकारी जब क्षेत्रीय लोगों के माध्‍यम से डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी तक पहुंची तो वे अपनी टीम के अभयनन्‍दन सिंह, दानिश खान, रविन्‍द्र यादव, महेन्‍द्र पासवान, छात्र संघ अध्‍यक्ष सौरभ सिंह, बलराम यादव, आलोक उपाध्‍याय, अंकित पाल, निहाल चन्‍द पाण्‍डेय के साथ मौके पर पहुंचे। वहां पर जाकर उन्‍होने केशवराम और रामसरोज के परिवार की हालत देखी तो उनका हृदय द्रवित हो गया। उन्‍होने केशव से पूछा कि आपकी कितनी सहायता कर दी जाय कि आप अपनी मृत मां का क्रिया कर्म कर लेंगे। इसके बाद केशव ने बताया कि 15 हजार रुपए में उनका काम चल जाएगा। केशव का वाक्‍य अभी पूरा भी नहीं हुआ कि उदार हृदय के स्‍वामी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने तुरन्‍त ही 15 हजार रुपए निकाले तथा महदेवा गांव के प्रधान मनोज कुमार को दिया कि वह उन्‍हें ये रुपए दे दें। आपके गांव में आए हैं तो रुपए आप ही देंगे। इसके बाद मनोज ने दोनों भाइयों को 15 हजार रुपए सौंप दिए। डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने प्रधान मनोज कुमार को जिम्‍मेदारी दी कि वह उन दोनों भाइयों के लिए प्रधानमन्‍त्री आवास का प्रबन्‍ध कर दें। साथ ही यह भी आश्‍वासन दिया कि परिवार को जब भी मदद की जरुरत होगी वे हर समय आगे बढ़कर काम करेंगे।

विश्‍वनाथपुर में धीरज पाण्‍डेय के घर पहुंचकर शोक संवेदना व्‍यक्‍त की

डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी विश्‍वनाथपुर गांव के धीरज पाण्‍डेय के घर पहुंचे। वहां पर पहुंचकर उन्‍होने धीरज पाण्‍डेय के पिता की मौत पर जाकर परिवार के लोगों से मुलाकात किया। साथ ही परिवार के लोगों को यह दुख सहने की क्षमता प्रदान करने के लिए भगवान से प्रार्थना किया। उन्‍होने परिवार के लोगों के हर सुख दुख में साथ रहने का आश्‍वासन भी दिया।

विश्‍वनाथपुर में धीरज पाण्‍डेय के घर पहुंचे डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी

-----
लिंक शेयर करें