Breaking News

हरिहरपुर के डुमरी में शुरू हुआ बीएड का नया सत्र, स्वागत में आयोजित हुआ कार्यक्रम

डुमरी में शुरू हुआ बीएड का नया सत्र, स्वागत में आयोजित हुआ कार्यक्रम

– डा. गिरिजेश पांडेय ने कहा कि जीवन के लिए शिक्षा बहुत उपयोगी है, जो गुरु द्वारा प्रदान की जाती है।

संतकबीरनगर :
एपीएन पीजी कालेज डुमरी में मंगलवार को बीएड का नया सत्र शुरू होने पर शिक्षकों व अभ्यर्थियों ने किया स्वागत समारोह। सत्रारंभ पर नवागंतुक प्रशिक्षुओं का स्वागत कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम का आगाज मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण व पुष्पार्पण कर जीपीएस पीजी कालेज खलीलाबाद के बीएड विभागाध्यक्ष डा.गिरिजेश पाण्डेय ने किया। इस अवसर पर सभी ने दीप प्रज्वलित कर अंधकार से प्रकाश की ओर जाने का संकल्प लिया गया। महाविद्यालय के बीएड की छात्राध्यापिकाओं ने सरस्वती वंदना व स्वागत गान गाकर कार्यक्रम का आगाज किया। मौके पर अपने स्वागत संबोधन में मुख्य अतिथि डा. गिरिजेश पांडेय ने कहा कि एक शिक्षक या गुरु द्वारा अपने विद्यार्थी को स्कूल में जो सिखाया जाता है या जैसा वो सीखता है, वे वैसा ही व्यवहार करते हैं। उनकी मानसिकता भी कुछ वैसी ही बन जाती है जैसा वह अपने आसपास होता देखते हैं। इसलिए एक शिक्षक ही अपने विद्यार्थी को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है। सफल जीवन के लिए शिक्षा बहुत उपयोगी है, जो हमें गुरु द्वारा प्रदान की जाती है। विश्व में केवल भारत ही ऐसा देश है जहां पर शिक्षक अपने शिक्षार्थी को ज्ञान देने के साथ-साथ गुणवत्तायुक्त शिक्षा भी देते हैं। यह एक विद्यार्थी में उच्च मूल्य स्थापित करने में बहुत उपयोगी है। इस उत्कृष्ट पेशे में आने पर सभी प्रशिक्षुओं को बधाई देते हुए कहा कि मैं इन सभी प्रशिक्षुओं को शिक्षक बनाने के लिए कृतसंकल्पित हूं। एपीएन पीजी कालेज डुमरी के बीएड विभागाध्यक्ष डा अनिल श्रीवास्तव ने बीएड सत्र के शुभारंभ पर नये छात्राध्यापको और छात्राध्यापिकाओं का बीएड परिवार मे सम्मिलित करते हुए उनका स्वागत किया। डा श्रीवास्तव ने कहा छात्र छात्राओं का आह्वान किया कि शिक्षक उनकी प्रतिभा को निखारने के लिए शत प्रतिशत योगदान देंगे। यदि प्रशिक्षणार्थी अपना योगदान देंगे तो निश्चित ही एक ऐतिहासिक पौध तैयार होगी। इससे पहले छात्र छात्राओं ने अतिथियों का माल्यार्पण करके स्वागत किया और स्वागत गीत प्रस्तुत करके अतिथियों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस दौरान प्राचार्य विष्णु प्रकाश पाण्डेय, डा अरुण शुक्ला, डा अरुण कुमार श्रीवास्तव, पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि रविन्द्र यादव, महेन्द्र धर द्विवेदी, शिवेन्द्र सिंह सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

-----
लिंक शेयर करें