Breaking News

एसआर एकेडमी नाथनगर में पर गणतंत्र दिवस पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों ने दिखाया देशभक्ति का जुनून

एसआर एकेडमी नाथनगर में पर गणतंत्र दिवस पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों ने दिखाया देशभक्ति का जुनून

सदर विधायक दिग्विजय नारायण उर्फ जय चौबे व पूर्व ब्लाक प्रमुख राकेश चतुर्वेदी ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम शुभारंभ किया।

संतकबीरनगर। एसआर इंटर नेशनल एकेडमी नाथनगर पर खलीलाबाद के विधायक दिग्विजय नारायण उर्फ जय चौबे, सूर्या एकेडमी के निदेशक डा. उदय प्रताप चतुर्वेदी व एसआर एकेडमी के एमडी अजय प्रताप नरायण उर्फ राकेश चतुर्वेदी ने मंगलवार को गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण किया। ध्वजारोहण कर देश के वीर सपुतों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए श्रद्धासुमन अर्पित किया तथा मां सरस्वती और विद्यालय के संस्थापक स्व. पं. सूर्य नरायण चतुर्वेदी की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर संस्कृतिक कार्यक्रम की औपचारिक शुरूआत किया। अतिथियों के साथ ही नौनिहालों के तिरंगे को सलामी दिया। एकेडमी के नन्हे-मुन्ने नौनिहालो ने अपनी प्रस्तुतियों से भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की अद्भुत और ऐतिहासिक झांकियों से लोगों को रूबरू कराया। पूरे दिन बच्चों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियो से एकेडमी परिसर गुंजायमान होता रहा। विधायक जय चौबे आज के ही दिन भारत के लोगों ने अपने आद्वितीय संविधान को अग्रिकृत अधियनियमित और आत्म अर्पित किया था, इस लिए आज हम सभी के लिए संविधान के आधार भूत जीवन मूल्यों पर गहराईयों से विचार करने का अवसर है। डा. उदय प्रताप चतुर्वेदी ने कहा कि अमर शहीदों के सपनों का भारत बनाने के लिए हमे जाति, धर्म और सम्प्रदाय से ऊपर उठकर सच्चे हिन्दुस्तानी के रूप मे अपने कर्त्तव्य का पालन करना होगा। डा. चतुर्वेदी ने कहा कि देश का भविष्य शैक्षणिक संस्थानों से ही निकलता है। ऐसे मे इन संस्थानों के नौनिहालों को देश की एकता, अखण्डता और मजबूती के लिए इस ऐतिहासिक पर्व पर संकल्प लेना होगा। डा. चतुर्वेदी ने गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि देश भक्तों के त्याग तपश्या, और बलिदान की अमर काहानी आज 26 जनवरी जैसा पावन पर्व समेटे हुए है। उत्सर्ग और शैर्य का ऐतिहास भारत की भूमि पर पग-पग में अंकित है। इसी दौरान विद्यालय के मैनेजिंग डायरेक्टर राकेश चतुर्वेदी ने कहा कि हमारा देश 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ था, लेकिन सम्पूर्ण भारत वासियों को 26 जनवरी 1950 को पूर्ण रुप से आजादी मिली। इसी दिन भारतीय संविधान लागू होने के साथ ही देश में कानून का राज स्थापित हुआ तथा भारत को गणतंत्र घोषित किया गया। इस दौरान पं सूर्य नारायण चतुर्वेदी पीजी कालेज के प्राचार्य वेद प्रकाश पाण्डेय, सह प्रबंधक मनोज कुमार पाण्डेय, प्रधानाचार्य संजय कुमार शर्मा, मायाराम पाठक, अवधेश सिंह, अभय नन्द सिंह, प्रधानाचार्य संजय शर्मा, अजय मिश्रा, ब्लाक प्रमुख समेरियावां मुमताज अहमद सहित तमाम शिक्षक शिक्षिकाएं और अभिभावक मौजूद रहे।

-----
लिंक शेयर करें